आखिर क्यों 2004 के लोकसभा चुनाव में हारी BJP, प्रणव दा ने बताई वजह

नई दिल्ली। पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने साल 2004 में भाजपा की हार की वजह बताई है। प्रणव दा ने अपनी आत्मकथा ‘द कोएलिशन ईयर्स : 1996-2012’ के तीसरे संस्करण में 2004 के लोकसभा चुनाव में भाजपा की हार को लेकर लिखा है। उन्होंने गुजरात दंगों को भाजपा की हार की सबसे बड़ी वजह बताया है। उन्होंने लिखा है कि गुजरात में 2002 में हुए दंगे अटल बिहारी वाजपेयी सरकार पर ‘संभवत: सबसे बड़ा धब्बा’ था।

इसी वजह से साल 2004 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को नुकसान उठाना हुआ था।उन्होंने अपनी किताब में राम मंदिर निर्माण को लेकर लिखा है कि अटल बिहारी वाजपेयी के शासन के दौरान अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण की मांग जोर पकड़ती रही। 2002 में हुए सांप्रदायिक दंगों के रूप में लोगों को इसका असर दिखा। इस दंगे की वजह से भाजपा को चुनाव में नुकसान हुआ। उन्होंने अपनी किताब में गोधरा कांड को लेकर भी लिखा है।

उन्होंने लिखा है कि ये वाजपेयी सरकार पर लगा सबसे बड़ा धब्बा था, जिसके कारण शायद आगामी चुनाव में उसे इसका नुकसान उठाना पड़ा। उन्होंने लिखा है कि सुधार की शुरुआत नरसिम्हा राव की सरकार से शुरू हुई। जिसे यूपीए की सरकार ने आगे बढ़ाया।

1
Back to top button