क्यों लोग करते है मैरिड कपल्स ऐसे सवाल, जानें यहाँ!

उनके इन सवालों का सिलसिला सिर्फ शादी तक ही खत्म नहीं होता बल्कि उसके बाद भी चलता रहता है।

भारतीय समाज में शादी को लेकर काफी जुनून देखने को मिलता है। लड़का हो या लकड़ी, अगर उनकी शादी की उम्र हो जाए तो फैमिली से लेकर पड़ोसी तक उन्हें मनाने में लग जाते हैं।

अगर वह शादी के लिए राजी ना हो तो तरह-तरह के सावल करते रहते हैं। उनके इन सवालों का सिलसिला सिर्फ शादी तक ही खत्म नहीं होता बल्कि उसके बाद भी चलता रहता है।

शादी से पहले- तुम शादी कब कर रहे हो? और शादी के बाद तुम बच्चे कब कर रहे हो? जैसे सवाल पूछते रहते हैं।

शादी से भी ज्यादा जरूरी बच्चा क्यों?

पहले तो सभी रिश्तेदार शादी के लिए लड़का या लड़की को जबरदस्ती मनाते हैं फिर वह यह भी चाहते हैं कि कपल्स तुरंत 1-2 साल में बेबी प्लान कर लें।

शादी के कुछ समय बाद ही बड़े-बुजुर्ग आपसे यह सवाल पूछना शुरू कर देते हैं कि गुड न्‍यूज कब सुना रही हो।

यह सवाल नई दुल्‍हन से केवल सास नहीं बल्कि रिश्‍तेदार तक पूछने लग जाते हैं। ऐसा लगता है जैसे बच्चा पैदा करना शादी से भी ज्यादा जरूरी है।

पड़ोसी भी नहीं छोड़ते पीछा

अगर शादी के बाद कपल्स रिश्तेदारों से दूर अलग शहर में चले भी जाए तो वहां पड़ोसी उनका पीछा नहीं छोड़ते।

पड़ोसियों को ना सिर्फ इस बात की जिज्ञासा होती है कि वह माता-पिता से अलग क्यों हुए बल्कि वह यह भी जानने को उत्सुक रहते हैं कि वह बच्चे कब करेंगे।

गायनेकोलॉजिस्ट भी नहीं होती कम

पड़ोसी व रिश्तेदारों को तो छोड़ो लेकिन जब गायनेकोलॉजिस्ट के लिए चेकअप के लिए जाओ वह भी यही सलाह देते हैं
कि जल्दी परिवार शुरु कर लो। हालांकि उनकी चिंता जायज भी होती है लेकिन कपल्स को इस बात का निर्णय लेने का भी पूरा हक है।

पेरेंट्स भी करते हैं ब्लैकमेल

बीतते समय के साथ लड़की के पेरेंट्स भी उसे फैमिली बढ़ाने के लिए इमोशनल ब्लैकमेल करना शुरू कर देते हैं। जब उनकी बात नहीं चलती तो वह अपनी उम्र का सहारा लेती बेटी को फैमिली बढ़ाने के लिए फोर्स करते हैं।

अच्छी खबर

रिश्तेदारों को ‘अच्छी खबर’ (प्रेग्नेंसी की खबर) सुनने का इतनी बेसब्री से इंतजार रहता है कि उन्हें करियर की गुड़ न्यूज से भी खुशी नहीं मिलती। उनकी बातें सुनकर ऐसा लगता है जैसे बच्चा प्लान करने का निर्णय उनका हो ही ना।

कपल्स की भावनाओं का करना चाहिए सम्मान

फैमिली प्लानिंग ना बढ़ाने के पीछे कपल्स का चाहे कोई भी कारण हो, हर किसी को उसका सम्मान करना चाहिए। लोगों को समझने की जरूरत है कि यह उनका निजी फैसला है और उनके बार-बार दखल देने से कपल्स के बीच दरार आ सकती है।

बार-बार ना पूछें यही सवाल

अगर आप शुभचिंतक हैं तो शादीशुदा जोड़े को बच्चा कब होगा इस बारे में पूछना बंद कर दें। साथ ही इससे महिलाएं तनाव से भी बच सकती हैं।

आपके बार-बार ऐसा पूछने से महिलाएं तनाव में रहने लगती हैं। विशेषज्ञों के अनुसार भी महिला के लिए तनाव अच्छा नहीं होता, खासकर जो परिवार शुरू करने की योजना बना रही है।

क्योंकि इससे गर्भावस्था पर असर पड़ता है। ऐसे में बेहतर यही होगा कि आप उन्हें उनका निर्णय खुद लेने दें।

1
Back to top button