शादी के बाद हनीमून क्यों प्लान करते है कपल ?

शादी के बंधन में बंधने के बाद पति-पत्नी उम्र भर के लिए एक-दूसरे के हो जाते हैं। आपसी समझ और प्यार ही दोनों की लाइफ को खुशहाल बनाता है लेकिन इसके लिए रिश्ते की शुरुआत अच्छी होना बहुत जरूरी है।

शायद यही कारण है कि शादी के बाद नवविवाहित जोड़ा हनीमून मनाने के लिए चला जाता है। आजकल तो लोग शादी से पहले ही घूमने-फिरने के लिए अच्छी से अच्छी जगह की तलाश कर लेते हैं और बुकिंग भी करवा लेते हैं ताकि नई जगह पर उनको किसी तरह की कोई परेशानी का सामना न करना पड़े। गांव के लोग हो या फिरशहर में रहने वाले मॉडर्न जमाने के लोग हर कोई हनीमून पर तो जरूर जाता है। शादी के बाद हनीमून मनाने के पीछे इसके अलावा और भी बहुत सी वजह हैं।

करीब से जानने का मौका : शादी से पहले लड़का-लड़की चाहे कितना भी एक-दूसरे को जानते हो लेकिन हनीमून ही एक ऐसा जरिया है जहां पर खुल कर एक-दूसरे से बात कर सकते हैं। शारीरिक संबंध हनीमून का जरिया नहीं है, यह आपसी विचार सांझा करने का भी जरिया है।

थकावट दूर करना : शादी की रस्में बहुत लंबी होती है और इसमें सबसे अहस रोल अदा करते है दूल्हा- दूल्हन। इसी बीच दोनों को थकावट होनी भी जाहिर सी बात है। कुछ देर के लिए रिश्तेदारों ले छुट्टी लेकर हनीमून के जरिए छुट्टी बिताने का यह सबसे अच्छा मौका होता है ताकि बाद में आकर आप पूरी जिम्मेदारियां आराम से निभा सको।

यादें बन जाती हैं सुनहरी : शादी के बाद पार्टनर के साथ बिताए गए हनीमून के पल ताउम्र दोनों के दिलों में सुनहरी यादें बन जाते हैं। इन लम्हों को संभाल कर रखने के लिए कुछ देर एक साथ बिताना जरूरी है। आपकी शादी भी अभी-अभी हुई है या फिर होने वाली है तो हनीमून पर जाने के प्लानिंग जरूर करें।

Back to top button