क्यों होती है टूथपेस्ट में अलग रंगों की पट्टियां, आइए जानें

थपेस्ट पर अलग—अलग रंगों की पट्टी बनी होती है। लाल रंग की पट्टी का मतलब होता है कि उसमें केमिकल मिला है

नई दिल्ली: वेजीटेरियन लोग अक्सर किसी खाद्य पदार्थ पर बने लाल निशान को देखते ही उसे छोड़ देते हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि वह नॉनवेज है। क्या आप भी ऐसा करते हैं? अगर आपका जवाब हां है तो ये जान लीजिए कि हर लाल रंग का मतलब नॉनवेज ही नहीं होता है।

जी हां, यहां हम टूथपेस्ट की बात कर रहे हैं। दरअसल, टूथपेस्ट की ट्यूब पर भी अलग—अलग रंग की पट्टियां बनी होती हैं। आइए जानते हैं इन रंगों का क्या है मतलब?

टूथपेस्ट पर लाल रंग का मतलब?

टूथपेस्ट पर अलग—अलग रंगों की पट्टी बनी होती है। लाल रंग की पट्टी का मतलब होता है कि उसमें केमिकल मिला है। हालांकि, इस पेस्ट में केमिकल के साथ प्राकृतिक चीजों का भी इस्तेमाल किया जाता है।

वहीं, जिस टूथपेस्ट पर हरे रंग की पट्टी होती है उसे सेहत के लिए काफी अच्छा समझा जाता है। इस रंग वाले पेस्ट में सिर्फ प्राकृतिक या हर्बल तत्वों का ही इस्तेमाल किया जाता है।

काले रंग की पट्टी वाले टूथपेस्ट के इस्तेमाल से बचें

बता दें, टूथपेस्ट की ट्यूब पर काले और नीले रंग की पट्टी भी बनी होती है। काले रंग का मतलब होता है कि उसमें कैमिकल की मात्रा ज्यादा है। यह टूथपेस्ट सेहत के लिए अच्छे नहीं माने जाते हैं।

वहीं, जिसपर नीले रंग का निशान होता है वह सेहत के लिए बेहतर माना जाता है। ऐसे रंग वाले पेस्ट में प्राकृतिक चीजों के साथ-साथ मेडिकेशन वाले तत्व भी मौजूद होते हैं। यह पेस्ट दांतों को साफ रखने के साथ मुंह की अलग-अलग बीमारियां दूर करने के लिए फायदेमंद है।

Back to top button