क्यों माँ को कहना पड़ा कहा..मेरा बेटा

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के गुमशुदा छात्र नजीब अहमद को तलाशने में जांच एजेंसी के रवैये से नाराज छात्रों ने दिल्ली में सीबीआई हेडक्वार्टर पर सोमवार को विरोध प्रदर्शन किया.

16 महीनों से गुमशुदा जेएनयू छात्र नजीब अहमद आखिर कहां हैं, उनके साथ क्या हुआ?

क्यों मां का लाडला नजीब इतने महीनों से अपने परिवार से दूर है? क्या नजीब के साथ कोई अनहोनी हुई है?

और अगर हां तो फिर गुनहगारों को अब तक पकड़ा क्यों नहीं गया? ये वो सवाल हैं जिनके जबाव टटोलने के लिए नजीब की मां फातीमा नफीस सीबीआई दफ्तर का चक्कर लगा रही हैं.

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के गुमशुदा छात्र नजीब अहमद को तलाशने में जांच एजेंसी के रवैये से नाराज छात्रों ने दिल्ली में सीबीआई हेडक्वार्टर पर सोमवार को विरोध प्रदर्शन किया. दरअसल नजीब 16 महीनों से गायब हैं.

पहले दिल्ली पुलिस नजीब की छानबीन कर रही थी और अब यह मामला सीबीआई के पास है, लेकिन दोनों अभी तक कुछ सुराग लगा पाने में नाकाम रही हैं.

सिर्फ नजीब की मां नहीं, बल्कि जेएनयू के हर छात्र के जहन में यही सवाल कौंध रहा है कि आखिर नजीब अहमद कहां हैं ? हालात ये हैं कि नजीब की मां के सब्र का बांध टूट रहा है. सीबीआई जांच से असंतुष्ट नजीब की मां का कहना है की शुरुआत से ही जांच सही दिशा में नहीं जा रही है.

Back to top button