पुरानी सड़कों का हो रहा है चौड़ीकरण : 84 करोड में हो रहा 9 सड़को का पुनर्निर्माण

कोरबा : जिले के कई पुराने एवं आवगमन की दृष्टि से महत्वपूर्ण जर्जर सड़कों की हालत अब सुधरने वाली है। शासन की पहल से शहर और गांव को जोड़ने वाली पुरानी सड़कों को न सिर्फ उन्नयन किया जा रहा है। आवागमन को आसान और सुरक्षित बनाने सड़कों का चौड़ीकरण भी किया जा रहा है। इस मार्ग में पुराने हो चुके पुल, पुलियों को भी सड़क चौडीकरण के साथ आवश्यकतानुसार नया बनाया जा रहा है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क अन्तर्गत लगभग 84 करोड़ रूपये की लागत से जिले के नौ पुराने सड़कों को उन्नयन किया जा रहा है। इससे लगभग 114 किलोमीटर तक आवागमन बहुत आसान हो जायेगा। साथ-ही साथ जर्जर सड़कों की वजह से उस मार्ग पर न चलकर लंबी दूरी तय करने वाले लोगों का समय और पैसा भी बचेगा।

छत्तीसगढ़ ग्रामीण सड़क विकास अभिकरण के अंतर्गत जिले के अलग अलग विकासखंड़ों के कुल नौ सडकों को उन्न्यन किया जा रहा है। इसमें पाली विकासखंड के चैतमा से पटपरा मार्ग, लंबाई 9.30 किलोमीटर, लागत राशि लगभग छह करोड़ 73 लाख, इूमरकछार से अलगीडांड मार्ग, लंबाई 10 किलोमीटर, लागत राशि लगभग सात करोड़ 28 लाख, रजकम्मा बड़ेबांका से भेलवाटिकरा मार्ग, लंबाई 9.50 किलोमीटर, लागत राशि लगभग छह करोड़ 83 लाख, नूनेरा बांधाखार से रामपुर ब्हाया नोनबिर्रा मार्ग, लंबाई 15.10 किलोमीटर, लागत राशि लगभग 10 करोड़ 13 लाख, कटघोरा ब्लाक में भिलाई बाजार से कटसिरा अखरापाली मार्ग, लंबाई 12.50 किलोमीटर, लागत राशि लगभग नौ करोड़ 31 लाख, रिस्दी से कनबेरी मार्ग, लंबाई 6.03 किलोमीटर, लागत राशि लगभग चार करोड़ 30 लाख है।

बांगों, गुरसिया जाना हो जायेगा आसान
छत्तीसगढ़ ग्रामीण सड़क विकास अभिकरण के अंतर्गत कोरबा ब्लाक के अजगरबहार से कछार मार्ग का भी उन्न्यन किया जा रहा है। लगभग 13 करोड़ रूपये की लागत से 18.40 किलोमीटर लंबी सड़क को बनाने क साथ चौड़ीकरण किया जा रहा है। इस मार्ग के पुलों को भी संवारा जा रहा है। यह मार्ग विगत कई सालों से जर्जर हो चुकी थी। मार्ग की चौड़ाई कम होने की वजह से दुर्घटनाओं की आशंका भी लगातार बनी रहती थी। सड़क के जर्जर होने की वजह से इस मार्ग में आवागमन कम हो पाता था। कुछ ऐसी ही स्थिति गुरसिया से लालपुर बांगों तक की थी। शासन द्वारा गुरसिया से लालपुर तक 14.30 किलोमीटर की सड़क का उन्नयन एवं चौड़ीकरण लगभग 11 करोड़ 24 लाख रूपये में किया जा रहा है।

दोनों ही सड़क आवागमन के लिहाज से बहुत ही उपयोगी एवं सुरक्षित साबित होने के साथ कई किलोमीटर की दूरी को भी कम कर देगी। पर्यटन की दृष्टि महत्वपूर्ण एवं प्रदेश के सबसे बड़े मिनीमाता बांगों बांध को देखने बाहर के लोग भी आते है। इस दौरान कटघोरा अंबिकापुर मार्ग में से होकर जाना पड़ता है। इस मार्ग में यातायात को दबाव लगातार बना रहता है। अजगरबहार से कछार मार्ग और लालपुर से गुरसियां तक सड़क बनने से आसपास के दर्जनों गांव के लोगों का आवगमन आसान बनने के साथ शहरवासियों को भी अजगरबहार-कोसगई के रास्ते बांगों, गुरसिया तक जाना बहुत ही आसान होगा।

जटगा से पसान जाना होगा आसान
छत्तीसगढ़ ग्रामीण सड़क विकास अभिकरण के अंतर्गत पोड़ी उपरोड़ा ब्लाक के जटगा से गुरसिया तक 18.80 किलोमीटर लंबी सड़क का उन्न्यन 15 करोड़ 42 लाख रूपये में किया जा रहा है। पहले इस सड़क की चौड़ाई कम थी। अब चौड़ीकरण के साथ मार्ग का उन्न्यन होने से अंबिकापुर से जटगा, पसान और पेण्ड्रा की ओर जाने वालों को बहुत बड़ी राहत मिलेगी।

एक साल के भीतर पूर्ण होंगे कार्य
छत्तीसगढ़ ग्रामीण सड़क विकास अभिकरण के कार्यपालन अभियंता कमल साहू ने बताया कि सड़क उन्नयन का कार्य प्रगति में है। अनेक पुलियों का काम भी पूर्ण हो चुका है। निर्माण कार्यों की लगातार मॉनीटरिंग की जा रही है। उक्त मार्गों के बनने से ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र के हजारों लोगों को सुरक्षित आवागमन में सुविधा होगी। कई मार्ग हाइवे से भी जुड़ जायेगे।

ग्रामीणों को बेसब्री से है इंतजार
ग्राम डोंगाघाट-धनगांव के कालेज छात्र अशोक कंवर, धनगांव के प्रेमलाल मंझुवार, विशम्भर साय, झलियामुड़ा-गुरसिया के रूपचंद नेटी, घुमानीडांड के धीरसाय को अपने क्षेत्र के मार्ग के पूर्ण होने का बेसब्री से इंतजार है। कार्य की प्रगति को देखते हुये उन्हें भरोसा है की सड़क जल्दी ही बनकर तैयार हो जायेगा। इनका कहना है जर्जर मार्ग होने की वजह से आवागमन में बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ता था। कई किलोमीटर दूर तक सफर करना मजबूरी बन गई थी। अब सड़क बनने से राहत मिलेगी। कालेज छात्र अशोक कंवर, ने बताया कि खराब सड़क में उसे सायकल से कालेज जाने में असुविधा होती है। अपने दुपहिया वाहन में गांव-गांव घूमकर बर्तन बेचने वाले लालबहादुर का कहना था कि जर्जर सड़क की वजह से उसे बर्तन लेकर गांव गांव जाने में बहुत परेशानी का सामना करना पड़ता था। सड़क बनने से वह आसानी से आना जाना कर पायेगा। धनगांव में एक छोटा से होटल चलाने वाले ग्रामीण समय लाल को सड़क के पूर्ण होने का बेसब्री से इंतजार है। समयलाल का मानना है कि सड़क के बनने और चौड़ीकरण होने से आवागमन में वृद्धि होगी, जिससे उसका होटल ठीक से चल पायेगा ओर आमदनी भी बढ़ेगी।

new jindal advt tree advt
Back to top button