उत्तर प्रदेशक्राइमराज्य

बच्चों के यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार जूनियर इंजीनियर की पत्नी भी गिरफ्तार

पत्नी पर अपने पति के अपराध में साथ देने और गवाहों को प्रभावित करने का आरोप

लखनऊ: केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई ने उत्तर प्रदेश में बच्चों के यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार जूनियर इंजीनियर की पत्नी दुर्गावती को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया है, जहां एजेंसी ने रिमांड अर्जी लगाई है.

इस मामले में अदालत ने अगली सुनवाई की तारीख 4 जनवरी 2021 तय की है. सुनवाई होने तक आरोपी महिला को जेल भेज दिया गया है. पत्नी पर अपने पति के अपराध में साथ देने और गवाहों को प्रभावित करने का आरोप है.

सीबीआई को जांच में पता चला था कि बच्चों के शोषण के आरोपी की पत्नी गवाहों को धमकाकर प्रभावित करना चाह रही है. पीड़ित बच्चों ने सीबीआई के अधिकारियों को बताया है कि इंजीनियर की पत्नी दुर्गावती भी पूरे कांड के दौरान साथ में रहती थी और अब वह गवाहों को धमका रही थी. इसके बाद सीबीआई ने दुर्गावती के खिलाफ पास्को एक्ट की धारा 17 व 120 के तहत मामला दर्ज कर लिया है. सोमवार को बांदा की कोर्ट में दुर्गावती को सीबीआई द्वारा पेश किया गया.

CBI अब तक आरोपी इंजीनियर राम भवन को रिमांड पर लेकर दो बार पूछताछ कर चुकी है. उसे चित्रकूट भी ले जाया गया था. उसके घर से अहम दस्तावेज भी बरामद किए गए थे. इसके अलावा कई पीड़ित बच्चों का भी उससे आमना-सामना कराया गया था.

आरोपी इंजीनियर राम भवन को सीबीआई ने 16 नवंबर को चित्रकूट स्थित उसके घर से गिरफ्तार किया था. राम भवन ने 50 से अधिक बच्चों का यौन शोषण किया था, इनमें 30 बच्चे चित्रकूट जिले और 25 बच्चे बांदा जिले के हैं. ये सभी 5 से 16 साल की उम्र के बच्चे थे.

आरोपी ज्यादातर अपने रिश्तेदार और परिवार के बच्चों का यौन शोषण किया करता था. बच्चों को इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स का लालच देता था. आरोपी के ईमेल की जांच से पता चला है कि आरोपी अश्लील फोटो और वीडियो शेयर करने के लिए देश-विदेश के कई गिरोहों के संपर्क में था. इसके अलावा रामभवन पर आरोप है कि वो पीड़ित परिवारों को ब्लैकमेल कर पैसों की मांग कर रहा था.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button