बढ़े हुए आत्मविश्वास के साथ एशियाड में उतरूंगी – सिंधू

हैदराबादः विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक जीतने वाली भारत की शीर्ष बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू ने कहा है कि वह 18वें एशियाई खेलों में बढ़े हुए आत्मविश्वास के साथ उतरेंगी और पदक हासिल करेंगी। सिंधू ने भारतीय बैडमिंटन खिलाडियों के लिए यहां आयोजित विदाई समारोह में कहा, ”बैडमिंटन मे चीन, जापान और कोरिया हमेशा से शक्ति के रूप में रहे हैं। इस बार भी भारतीय खिलाडिय़ों को इन्हीं देशों के खिलाडिय़ों से चुनौती मिलेगी।

सिंधू बोली, ”इस बार हम हालांकि नए सिरे से तैयार हैं। व्यक्तिगत तौर पर मैं अच्छी लय में हूं और बढ़े हुए आत्मविश्वास के साथ एशियाई खेलों में हिस्सा लूंगी।” लंदन ओलंपिक में कांस्य और इस साल गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण जीतने वाली सायना नेहवाल ने कहा कि वह पदक के लिए अपना श्रेष्ठ प्रदर्शन करेंगी। सायना ने कहा, ”हमारे पास अच्छा संयोजन है। हम श्रेष्ठ टीमों को हरा सकते हैं। व्यक्तिगत तौर पर मैं 100 फीसदी फिट हूं और पोडियम फिनिश की उम्मीद कर रही हूं।”

\एशियाई खेलों के बैडमिंटन रिकॉर्ड पर नजर डाली जाए तो 1962 में पहली बार बैडमिंटन को एशियाई खेलों में शामिल किए जाने के बाद से भारत ने इंचियोन एशियाई खेलों में महिला टीम स्पर्धा में कांस्य जीता था। इससे पहले एक व्यक्तिगत पदक 1982 के एशियाई खेलों में सैयद मोदी ने कांस्य के रूप में दिलाया था।

Tags
Back to top button