कोरोना संकट में शहीद हुए कोरोना योद्धाओं को 1 जून को देंगे नम आंखों से श्रद्धांजलि : बी पी सिंह रावत

राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली सयुक्त मोर्चा

ब्यूरो चीफ :-विपुल मिश्रा
रिपोर्टर:- प्रणव कुमार

राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली सयुक्त मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी पी सिंह रावत, छत्तीसगढ़ प्रदेश संयोजक संजय शर्मा, वीरेंद्र दुबे, लैलूंन भारद्वाज, रोहित तिवारी, तुलसी साहू, राष्ट्रीय आईटी सेल प्रभारी बसंत चतुर्वेदी, राजेश शर्मा, प्रदेश सह संयोजक सुधीर प्रधान, वाजिद खान, हरेंद्र सिंह, देवनाथ साहू, प्रवीण श्रीवास्तव, विनोद गुप्ता, डॉ कोमल वैष्णव, मनोज सनाढय, शैलेन्द्र पारीक ने कहा है कि वर्तमान समय में पूरे देश में कोरोना संकट से निपटने के लिए देश के लाखो एनपीएस कार्मिक अपना महत्वपूर्ण योगदान दे रहे हैं

जिसमे डाक्टर, नर्स, बैंक कर्मी, स्वास्थ्य कर्मी, पुलिस कर्मी, सफाई कर्मी, रेलवे कर्मी, कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी सभी रात दिन देश सेवा में अग्रणी भूमिका में निभा रहे हैं जो कि अत्यन्त सराहनीय है, दूसरी तरफ इस कोरोना संकट में देश सेवा करते करते हम सभी के बीच से कई कार्मिक साथी स्वर्ग सिधार गए है जो कि अत्यन्त दुखद है।

राष्ट्रीय अध्यक्ष बी पी सिंह रावत ने कहा 

राष्ट्रीय अध्यक्ष बी पी सिंह रावत ने कहा है कि राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली सयुक्त मोर्चा ने यह निर्णय लिया है कि देश के सभी कार्मिक अपने अपने घर पर रह कर केंद्र सरकार एवं राज्य सरकारों के दिशा निर्देशों का पालन करते हुए दिनाक 1 जून 2021 को ठीक रात के आठ बजे एक दीप जलाकर कोरोना संकट में शहीद हुए कोरोना योद्धाओं को श्रद्धांजलि अर्पित करेगे।

इस श्रद्धांजलि कार्यक्रम में केंद्र से लेकर राज्य सरकारों के सभी कार्मिक से भाग लेने की अपील राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली सयुक्त मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी पी सिंह रावत, उत्तराखंड से अनिल बडोनी ,सीताराम पोखरियाल, मिलिंद बिष्ट ,दिल्ली से डा अनिल स्वदेशी , छत्तीसगढ़ से संजय शर्मा, बीरेंद्र दुबे, लैलूंन भारद्वाज, रोहित तिवारी, तुलसी साहू, बसंत चतुर्वेदी, राजेश शर्मा ,मध्य प्रदेश से जगदीश यादव राजस्थान से श्याम सुंदर शर्मा, गुजरात से राकेश कंधारिया, डा पंकज प्रजापति, उत्तर प्रदेश से अजय कुमार द्विवेदी, तेलंगाना से संपत कुमार स्वामी, डा पुरुषोत्तम, जम्मू कश्मीर से गुलजुवेर डेंग, बिहार से शोभ नाथ यादव, असम से अछूतानंद हजारिका ने की है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button