Warning: mysqli_real_connect(): Headers and client library minor version mismatch. Headers:50562 Library:100138 in /home/u485839659/domains/clipper28.com/public_html/wp-includes/wp-db.php on line 1612
शासकीय दुकान में प्रिंट रेट से अधिक कीमत में बेची जा रही शराब, प्रशासन मौन

सीतापुर के शासकीय शराब दुकान में प्रिंट रेट से अधिक कीमत में बेची जा रही शराब, प्रशासन मौन

सेल्समैन के द्वारा हरकत से बाज नहीं आने पर कलेक्टर को दी गई इन सभी बातों की जानकारी।

सीतापुर। सीतापुर का शासकीय शराब दुकान जो कि सीतापुर क्षेत्र के बिठुआ रोड पर स्थित है, यहां शराब दुकान के सेल्समैन के द्वारा शराब की बिक्री प्रिंट रेट से भी अधिक रुपये में धड़ल्ले से की जा रही है। इसके साथ ही मदिरा खरीददारों को शराब की खरीदी पर बिल भी नहीं दिया जा रहा है।

बात करें शराब दुकान की तो जब से सरकार के द्वारा इसकी बिक्री चालू हो गई है तब से ये सेल्समैन बिना किसी डर के शराब को प्रिंट रेट से अधिक दामों पर बेच रहे है। इसके साथ-साथ ये सेल्समैन शराब खरीददारों को बिल भी नहीं दे रहे है।

जब शराब खरीददारों के द्वारा शराब की बिल मांगी जाती है, तब सेल्समैन के द्वारा मशीन खराब होने का बहाना मार दिया जाता है।

स्थानीय पुलिस के समझाइस के बाद भी शराब बिक्री प्रिंट रेट से अधिक

जब सीतापुर स्थानीय पुलिस को इस बात की जानकारी मिली तो पुलिस भी शासकीय शराब दुकान पर जाकर इस बात की पुष्टि की और सेल्समैन को चेतावनी भी दी कि ऐसा करना अपराध है।

तब सेल्समैन द्वारा पुलिस को कोई उत्तर नहीं दिया गया, जब पुलिस वहां से निकली तो सेल्समैन धड़ल्ले से फिर प्रिंट रेट से अधिक रुपये में शराब की बिक्री चालू कर दिया।

पुलिस ने जब शराब दुकान के अंदर जाकर देखा तो कुछ लोग अंदर गाँजे का सेवन धड़ल्ले से कर रहे थे और अंदर मूंगफलियों का छिलका काफी मात्रा में बिखरा हुआ था, सीतापुर पुलिस ने सेल्समैन को समझाइस भी दी कि अब ऐसा नहीं होना चाहिए।

सेल्समैन को शासन और प्रशासन का डर नहीं

इन सेल्समैन को न तो शासन का डर है और न ही प्रशासन का, यहाँ की शराब दुकान की बात करें तो यहाँ अंग्रेजी मंदिरों पर प्रिंट रेट से अधिक 10 रुपये से लेकर ये आदमी देखकर 50 रुपये तक बेच रहे है, इन्हें जरा भी शासन और प्रशासन का डर नहीं है।

इसके साथ ही यहाँ के शराब दुकान के अंदर की बात करें तो यहां हमेशा असामाजिक तत्वों का जमावाड़ा लगा रहता है। यहाँ शासकीय शराब दुकान के पास कांच के टुकड़े और शराब के बोतलों का जमावाड़ा खेतों पर लगा रहता है।

मुखबिर और शराब खरीददारों के द्वारा पत्रकारों को मिली इसकी सूचना

जब सीतापुर के कुछ पत्रकारों को इस बात की जानकारी मिली कि सेल्समैन के द्वारा प्रत्येक शराब की खरीदी पर प्रिंट रेट से अधिक शराब के दाम लगा रहा है, तब पत्रकारों के द्वारा शराब दुकान का जायजा लिया गया फिर इस बात की शिकायत सीतापुर के एसडीएम अतुल शेटे के पास की गयी।

सीतापुर एस.डी.एम के द्वारा आबकारी विभाग के पास भी इस बात की सूचना दी गयी किन्तु इसके बाद भी शासकीय शराब दुकान के सेल्समैन हरकत से बाज नहीं आये।

क्या आबकारी विभाग की मिलीभगत

जब सेल्समैन बिना किसी डर के शासकीय शराबों की बिक्री मनचाही रेट पर कर रहा है, जबकि इस बात की सूचना आबकारी विभाग को भी है, कहीं न कहीं इन सभी चीजों से ये बात भी सामने आ रही है कि इन सभी के पीछे आबकारी विभाग की मिलीभगत भी हो सकती है।

कलेक्टर को दी गई इन सभी बातों की जानकारी

जब सेल्समैन अपनी हरकत से बाज नहीं आये तब इन सभी बातो की सूचना सरगुजा कलेक्टर को भी दी गई, उनके द्वारा यह बतलाया गया है कि इनके खिलाफ दंडात्मक कार्यवाही अवश्य होगी।

new jindal advt tree advt
Back to top button