चीन की आर्थिक मदद से वेनेजुएला में संकट गहराया

सैंटियागो : अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोंपियो ने कहा है कि चीन द्वारा वेनेजुएला की निकोलस मादुरो सरकार को आर्थिक मदद मुहैया कराने से इस देश में संकट और गहरा हो रहा है। उन्होंने यह बात लातिन अमेरिका की चार देशों की यात्रा चिली से शुरू करने के दौरान कही।

उन्होंने चिली के राष्ट्रपति सेबेस्टियन पिनेरा से अमेरिका-चीन व्यापार युद्ध और वनेजुएला संकट जैसे मुद्दों पर चर्चा की। वेनेजुएला में बेलगाम मंहगाई, खाद्य पदार्थों, दवाई की कमी और अनेक कठिनाइयों के चलते वेनेजुएला के करीब 30 लाख लोग देश छोड़ने को मजबूर हो गए हैं। पोंपियो ने शुक्रवार को कहा कि मादुरो की सरकार को चीन की ओर से मिल रही आर्थिक मदद की वजह से वेनेजुएला में संकट बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि चीन ने 60 अरब अमेरिकी डॉलर का निवेश किया है और इसके बदले में कोई शर्त नहीं रखी है। उन्होंने कहा कि यह कोई चौंकाने वाली बात नहीं है कि मादुरो ने उस धन का इस्तेमाल अपने सहयोगियों को देने, लोकतंत्र समर्थक कार्यकर्ताओं को कुचलने के लिए किया है।

अमेरिका ने वेनेजुएला और क्यूबा पर दबाव बनाने के लिए दोनों देशों की चार तेल कंपनियों और नौ जहाजों पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की। अमेरिका के वित्त मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा, वेनेजुएला के तेल क्षेत्र में काम करने वाली चार कंपनियों और नौ जहाजों पर प्रतिबंध लगा दिया है। जिनमें से कुछ के जरिए वेनेजुएला से क्यूबा तक तेल पहुंचाया जाता था। उल्लेखनीय है कि अमेरिका वेनेजुएला के विपक्षी नेता जुआन गुआइदो का समर्थन कर रहा है और इसी तहत वह वेनेजुएला सरकार के खिलाफ आर्थिक प्रतिबंधों और कूटनीतिक दबाव की नीति अपना रहा है।

1
Back to top button