बिना किसी शर्त के तालिबान के साथ होनी चाहिए बातचीत -सेना प्रमुख

अफगानिस्तान शांति प्रक्रिया पर सेना प्रमुख ने कहा

नई दिल्लीः रायसीना डायलॉग के दौरान भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने एक पैनल चर्चा में कहा कि आतंकवाद अब कई सिर वाले राक्षस की तरह पांव पसार रहा है, इसे नियंत्रित किए जाने की आवश्यकता है.

उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर समेत भारत में अलग अलग तरह का कट्टरपंथ दिखाई दे रहा है. बहुत सी गलत एवं झूठी जानकारियों के कारण युवाओं के अंदर कट्टरता की भावना आ रही है और धर्म संबंधी कई झूठी बातें उनके मनमस्तिष्क में भरी जा रही हैं.

अफगानिस्तान शांति प्रक्रिया पर सेना प्रमुख ने कहा कि तालिबान के साथ बातचीत होनी चाहिए, लेकिन यह बिना किसी शर्त के हो.

1
Back to top button