बारिश से ढह गई कन्या छात्रावास की दीवार

रायपुर।

छत्तीसगढ़ में मौसम का मिजाज तेजी से बिगड़ रहा है। मौसम विभाग बीते तीन दिन से रोजाना भारी से अतिभारी बारिश की चेतावनी दे रहा है, आने वाले 24 घंटे में उसने एक बार फिर भारी बारिश होने का पूर्वानुमान जारी किया है। इसे ‘रेड अलर्ट’ कहा गया है।

बिलासपुर में भी रविवार सुबह से तेज बारिश का दौर जारी रहा। रायगढ़ में दो दिनों में औसतन 40 मिमी बारिश हुई, बारिश के कारण शहर का चक्रपथ फिर डूब गया। बारिश से कन्या छात्रावास की दीवार ढह गई, दीवार ढहने से दो चार पहियां वाहन इसकी चपेट में आ गए।

सामन्य तौर में बारिश के कारण बालिकाएं कमरे में थीं, अन्यथा बड़ी दुर्घटना हो सकती थी। घटना केवड़ाबाड़ी बस स्टैंड भूपदेव प्राथमिक बालिका हॉस्टल की है।

छत्तीसगढ़ के दो संभागों बस्तर और सरगुजा के कई हिस्सों में बीते 24 घंटे में हुई मूसलधार बारिश से जन-जीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त हो चुका है। कई इलाकों को खाली करवाया गया है।

दूसरी तरफ रायपुर, दुर्ग संभाग के लिए भी अलर्ट है, रायपुर में रातभर बारिश होती रही। शनिवार को सबसे ज्यादा बारिश बीजापुर के भैरमगढ़ इलाके में हुई, यहां रिकॉर्ड 172.2 मिमी (17 सेंटीमीटर) बारिश दर्ज हुई। इतनी बारिश के बावजूद प्रदेश के चार जिलों में सूखे के हालात हैं। बेमेतरा, बीजापुर में अतिरिक्त बारिश हो चुकी है।

Back to top button