छत्तीसगढ़

राजधानी में होने वाले दो बाल विवाह को महिला एवं बाल विकास की टीम ने रोका

रायपुर: महिला एवं बाल विकास विभाग की टीम ने आज यहां रायपुर जिले में दो बाल विवाह को होने से रोका। विभाग के टीम की मुस्तैदी से ये बाल विवाह संपन्न नही हो सका।

गौरतलब है कि अक्षय तृतीया के अवसर पर बाल विवाह की संभावना को देखते हुए कलेक्टर ओ.पी.चौधरी ने जिले के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, पुलिस और महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों को विशेष रूप से सजग रहते हुए इस अवसर पर होने वाले बाल विवाह को रोकने के निर्देश जारी किए थे।

 

विभाग की टीम की समझाईश से वासुदेव पारा निवासी गोवर्धन शर्मा और धरसींवा विकासखण्ड के नगर पंचायत कुंरा निवासी मनहरण ने न केवल अपनी पुत्रियों के बाल विवाह होने से रोका बल्कि यह शपथ पत्र भी दिए की पुत्री के 18 वर्ष की आयु पूर्ण करने के पश्चात् ही विवाह करेंगे।

Tags
advt

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.