स्वसहायता समूह की महिलाओं ने सीखा सोशियल मीडिया से जुड़ने के गुर

रायपुर : हमर छत्तीसगढ़ योजना में अध्ययन भ्रमण पर आईं महिला स्वसहायता समूह की पदाधिकारियों ने सोशियल मीडिया से जुड़ने और उसके उपयोग के गुर सीखे। सोशियल मीडिया की उपयोगिता की जानकारी देते हुए हमर छत्तीसगढ़ योजना की अधिकारी शिवानी श्रीवास्तव ने उन्हें योजना की वेबसाइट और फेसबुक पेज से जुड़ने का तरीका बताया। श्रीवास्तव ने उन्हें यू-ट्यूब पर योजना से संबंधित वीडियो देखना भी सिखाया।

राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (बिहान) के अंतर्गत गठित महिला स्वसहायता समूहों के ग्राम संगठन एवं संकुल संगठन की 468 पदाधिकारी अध्ययन भ्रमण पर रायपुर आई हुईं हैं। इनमें राजनांदगांव, गरियाबंद, कांकेर और बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के स्वसहायता समूह की पदाधिकारी शामिल हैं। हमर छत्तीसगढ़ योजना के आवासीय परिसर, नया रायपुर के उपरवारा स्थित होटल प्रबंधन संस्थान में इन्हें सरकार की योजनाओं, कानूनों एवं साक्षरता के महत्व के बारे में भी जानकारी दी गई।

साक्षर भारत कार्यक्रम के आरंग विकासखंड के कार्यक्रम अधिकारी श्री टी.सी. जायसवाल ने स्वसहायता समूह की महिलाओं को साक्षरता की जरूरत एवं महत्व के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि महिला सशक्तिकरण के लिए शिक्षा बहुत जरूरी है। सुशिक्षित महिलाएं शासन की योजनाओं को बेहतर ढंग से समझकर उनका लाभ ले सकती हैं।

रायपुर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के पैनल अधिवक्ता श्री शाहिर लुधियानवी खान ने महिलाओं को विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा दी जाने वाली सुविधाओं के बारे में बताया। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के सहायक विकास विस्तार अधिकारी श्री उदय राम कामड़े ने स्वसहायता समूह की पदाधिकारियों को केन्द्र एवं राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी।

new jindal advt tree advt
Back to top button