छत्तीसगढ़

भाजपा का चुनाव प्रचार करना महिला शिक्षाकर्मी को पड़ा महंगा, सस्पेंड

कुकानार में वर्ग-2 की शिक्षिका के तौर पर थी पदस्थ

सुकमा।

चुनाव प्रचार करना एक महिला शिक्षाकर्मी को महंगा पड़ गया है। कलेक्टर ने महिला को सस्पेंड कर दिया है। महिला शिक्षिका का नाम दीपिका सोरी सुकमा के माध्यमिक विद्यालय कुकानार में वर्ग-2 की शिक्षिका के तौर पर पदस्थ थी।

बता दें कि बस्तर में 12 नवंबर क चुनाव होना है। चुनाव आयोग बार-बार इस बात की हिदायत दे रहा है कि आचार संहिता का पूर्ण रूपेण पालन किया जाए और सरकारी कर्मचारी चुनाव प्रचार और राजनीतिक गतिविधियों से बिल्कुल दूर रहे, बावजूद कुछ कर्मचारी सरकारी आदेश को ठेंगा दिखाने की तैयारी में है।

दीपिका सोरी के खिलाफ भी ऐसी ही शिकायतें थी कि वो भाजपा प्रत्याशी के पक्ष मे में लगातार चुनाव प्रचार कर रही थी और राजनीतिक सक्रियता भी दिखा रही थी। चुनाव प्रचार की ये शिकायत कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य को भी मिली थी, जिसके बाद कलेकटर ने तत्काल प्रभाव से उन्हें सस्पेंड कर दिया है।

Tags
advt