चकरभाठा एयरपोर्ट में रनवे की चौड़ाई बढ़ाने का काम एक बार फिर अटका

नईम खान

बिलासपुर।

बीते चार दिन से रुक-रुक कर हो रही बारिश के कारण चकरभाठा एयरपोर्ट में रनवे की चौड़ाई बढ़ाने का काम एक बार फिर अटक गया है। डीजीसीए के निर्देश के मुताबिक रनवे की चौड़ाई 28 मीटर से बढ़ाकर 30 मीटर करनी है।

चौड़ाई बढ़ाने के बाद एक बार फिर डीजीसीए की टीम निरीक्षण के लिए आएगी। पहले डायरेक्टर जनरल आॅफ सिविल एविएशन (डीजीसीए) के निदेर्शों ने और अब बारिश ने जिला प्रशासन की परेशानी बढ़ा दी है ।

दरअसल डीजीसीए की टीम में शामिल अधिकारियों ने चकरभाठा एयरपोर्ट के रनवे की चौड़ाई को नाकाफी बताते हुए दोनों तरफ एक-एक मीटर चौड़ाई बढ़ाने के निर्देश जारी किए हैं। केंद्रीय विमानन मंत्रालय के मापदंडों के अनुरूप रनवे की चौड़ाई 30 मीटर करने कहा गया है।

पूर्व में एविएशन के अधिकारियों ने प्रवास के दौरान डेढ़ किलोमीटर रनवे की चौड़ाई 28 मीटर करने के निर्देश दिए थे। इसी के आधार पर ड्राइंग डिजाइन भी तय कर दी थी। पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों ने एविएशन के अफसरों के निदेर्शानुसार रनवे की लंबाई डेढ़ किलोमीटर व चौड़ाई 28 मीटर रखा था।

निर्माण कार्य पूरा करने के बाद पीडब्ल्यूडी के अधिकारी आश्वस्त नजर आ रहे थे कि जल्द ही एयरपोर्ट को सिविल एविएशन के हवाले कर दिया जाएगा। डीजीसीए की टीम के दौरे पर आने और दस्तावेज के परीक्षण के बाद रनवे के निर्माण कार्य को रिजक्ट करने से पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों की परेशानी बढ़ गई।

चौड़ाई बढ़ाने और निर्माण कार्य पूर्ण करने के बाद सूचना देने के निर्देश के साथ ही अफसर दिल्ली रवाना हो गए थे। डीजीसीए के मापदंड के अनुरूप चौड़ाई बढ़ाने का काम शुरू ही हो पाया था कि बारिश होने लगी। इसे मिट्टी फिलिंग भी नहीं हो पा रही है।

टायरिंग का काम भी अटका

रनवे की चौड़ाई बढ़ाने के लिए पहले डेढ़ किलोमीटर लंबे रनवे के दोनों तरफ मिट्टी की फिलिंग करनी होगी। इसके बाद गिट्टी बिछाई जाएगी। फिर मुरुम बिछाएंगे । इसके बाद दूसरी लेयर के रूप में गिट्टी फिर मुरुम बिछाने के बाद डामरीकरण किया जाएगा।

डामरीकरण के बाद टायरिंग की जाएगी। टायरिंग का काम साफ मौसम में किया जाता है। लिहाजा पीडब्ल्यूडी के अफसरों को टायरिंग के लिए साफ मौसम का इंतजार करना होगा।

बारिश के चलते रनवे की चौड़ाई काम रुक गया है। मौसम खुलने का इंतजार कर रहे हैं। जैसे ही मौसम साफ होगा चौड़ाई बढ़ाने के साथ ही टायरिंग का काम प्रारंभ किया जाएगा।

Back to top button