छत्तीसगढ़

27 जिलों में खुलेंगे श्रमिक कौशल विकास केन्द्र

रायपुर । प्रदेश के सभी 27 जिलों में श्रमिक कौशल विकास केन्द्र मुख्यमंत्री के निर्देशों के अनुरूप शुरू किए जाएंगे। यह निर्णय मंगलवार को मंत्रालय (महानदी भवन) में हुई छत्तीसगढ़ भवन और अन्य सन्निर्माण मंडल की बैठक में लिया गया। बैठक की अध्यक्षता मंडल के अध्यक्ष मोहन एन्टी ने की। बैठक में श्रम विभाग के प्रमुख सचिव आर.पी.मंडल ने कहा कि, राज्य के सभी जिलों में श्रमिक कौशल विकास केन्द्र शुरू किए जाएगें। ये अत्याधुनिक प्रशिक्षण केन्द्र होंगे, जिसमें संगठित और असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को विभिन्न रोजगार मूलक कार्यो का प्रशिक्षण देकर रोजगार मुहैय्या कराया जाएगा।
बैठक में जानकारी दी गई कि, श्रमिक कौशल विकास केन्द्र में श्रमिकों के लिए हॉस्टल, श्रम कल्याण केन्द्र सहित श्रमिक हितकारी गतिविधियों की संचालन की सुविधा रहेगी। कौशल विकास केन्द्र में संगठित, असंगठित और निर्माण श्रमिकों को गर्म और पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराने के लिए दीनदयाल श्रम अन्न सहायता योजना के तहत श्रमिक भोजन बांटने केन्द्र की भी स्थापना की जाएगी। राज्य शासन की ओर से श्रमिक कौशल विकास केन्द्र की स्थापना के लिए रायपुर जिले में ग्राम पिरदा रिंग रोड मार्ग पर पांच एकड़ भूमि आवंटित कर दी गई है। इसी प्रकार बिलासपुर के गनियारी में 2.5 एकड़ भूमि आवंटित की गई है। बैठक में कहा गया कि, राज्य के अन्य जिलों में भी कौशल विकास केन्द्र निर्माण के लिए आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। भवन तथा अन्य सन्ननिर्माण कार्य में लगे श्रमिकों के बच्चों को रंगीन कपड़े देने का निर्णय भी मंगलवार की बैठक में लिया गया। बच्चों के लिए कपड़े की सिलाई स्थानीय तेलीबांधा के समीप कचरा बीनने वालों के लिए संचालित सिलाई प्रशिक्षण केन्द्र में कराई जाएगी। बैठक में निर्माण कार्य से जुड़े ई-रिक्शा खरीदने के इच्छुक महिलाओं को ई-रिक्शा सहायता योजना के तहत एकमुश्त 50 हजार रूपये का अनुदान देने का निर्णय लिया गया। बैठक में श्रमिकों के पंजीयन, उज्जवला योजना, भगिनी प्रसुति सहायता योजना, राजमाता कन्या विवाह योजना, निर्माण महिला स्व-सहायता योजना, बीमा योजना आदि की समीक्षा की गई। बैठक में श्रम विभाग के प्रमुख सचिव आर.पी.मंडल, श्रमायुक्त अविनाश चम्पावत, श्रम मंडल के कल्याण आयुक्त अजितेश पाण्डेय मौजूद थे। इसके अलावा उप श्रमायुक्त सविता मिश्रा, वित्त और लोक निर्माण विभाग के अधिकारी सहित मंडल के सदस्य मौजूद थे।

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *