हफ्ते में 30 घंटे काम, 45 लाख औसत कमाई

इन 10 देशों में मिलती है सबसे ज्यादा सैलरी

नई दिल्ली :

दुनियाभर में लाखों की तादाद में लोग ज्यादा कमाई की तलाश में अपना देश छोड़कर दूसरे देश में प्रवास कर जाते हैं। मगर आपको जानकार हैरानी होगी कि दुनिया में कुछ देश ऐसे भी जो अपने कर्मचारियों को लाखों रुपए तक का वेतन देते हैं।

खास बात यह है कि कुछ देशों में तो लोगों के सप्ताह में काम करने का समय भी महज 30 घंटे है। अगर दिन के हिसाब से इस समय को सप्ताह में बांटे तो यह एक दिन में पांच घंटे से भी कम बैठता है।

ये हैं वो देश

1-लक्समबर्ग-

इस देश की अर्थव्यवस्था मुख्य रूप से बैंकिंग, फाइनेंशियल सर्विस, रियल स्टेट, आईटी और टेलीकम्यूनिकेशन पर आश्रित है। रिपोर्ट के मुताबिक इस देश में प्रति व्यक्ति औसत आय 62,636 डॉलर है।

भारतीय मुद्रा में इसका हिसाब लगाए तो यह 45,41,141 रुपए बैठती है। यहां प्रति घंटा न्यूनतम मजदूरी 11.20 डॉलर यानी 812 रुपए है। जबकि सप्ताह में 30 घंटे काम के तय किए गए हैं।

2-अमेरिका-

जीडीपी रैंकिंग के मुताबिक अमेरिका दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। यहां लोगों की औसत आय 60,154 डॉलर (43,59,059 रुपए) है। प्रति घंटा न्यूनतम मजदूरी 7.25 डॉलर (525 रुपए) है। जबकि सप्ताह में काम के घंटे 34.4 तय किए गए हैं।

3-स्विटजरलैंड-

वर्ल्ड बैंक की रिपोर्ट के मुताबिक प्रति आय के हिसाब से स्विटजरलैंड दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। पहले नंबर है लक्समबर्ग है। यहां यहां लोगों की औसत आय 60,124 डॉलर (43,56,885 रुपए) है। हालांकि यहां घंटे के हिसाब से कमाई तय नहीं है मगर एक सप्ताह में 31 घंटे काम के तय किए गए हैं।

4-आॅस्ट्रेलिया- जीडीपी के मामले में आॅस्ट्रेलिया का स्थान 13वां है। साल 2016 के आकंड़ों के मुताबिक इस देश की अर्थव्यस्था 1.26 ट्रिलियन थी। यहां लोगों की औसत आय 52,063 डॉलर (37,72,745 रुपए) है। यहां काम के घंटे 10.9 डॉलर (789 रुपए) प्रति घंटा तय किए गए हैं। जबकि सप्ताह में औसत काम के घंटे 32 तय किए गए हैं।

5-आयरलैंड-

इस देश की जीडीपी में साल 2015 में 26 फीसदी का उछाल आया मगर अगले ही साल 5.13 फीसदी तक लुढ़क गई। यहां लोगों की औसत आय 51,618 डॉलर (37,40,498 रुपए) है। यहां काम के घंटे 10.9 डॉलर (789 रुपए) प्रति घंटा तय किए गए हैं जबकि सप्ताह में काम के घंटों की संख्या 39 है।

6-कनाडा-

साल 2008 आर्थिक संकट और बेरोजगारी के बाद भी इस मुल्क ने रिकॉर्ड रोजगार पैदा किए। आज यहां लोगों की औसत आय 48,403 डॉलर (35,07,523 रुपए) है। यहां काम के घंटे 11.15 डॉलर (807 रुपए) प्रति घंटा तय किए गए हैं जबकि सप्ताह में काम करने के घंटों की संख्या 40 है।

7-जर्मनी-

जीडीपी के मामले में जर्मनी दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है। इससे आगे सिर्फ अमेरिका, चीन और जापान ही हैं। यहां लोगों की औसत आय 46,389 डॉलर (33,59,723 रुपए) है। काम के घंटे 11.61 डॉलर (840 रुपए) प्रति घंटा तय किए गए हैं जबकि सप्ताह में काम करने के घंटों की संख्या 28 है।

8-फ्रांस-

इस मुल्क में सबसे ज्यादा लोग सर्विस सेक्टर में कार्यरत हैं। इसके अलावा फ्रांस टूरिस्ट सेक्टर में भी खासा लोकप्रिय है। देश की बड़ी अर्थव्यवस्था में इस देश सेक्टर का खासा योगदान है। आज यहां लोगों की औसत आय 42,992 डॉलर (31,13,695 रुपए) है। यहां काम के घंटे 11.57 डॉलर (837 रुपए) प्रति घंटा तय किए गए हैं जबकि सप्ताह में काम करने के घंटों की संख्या 39 है।

9-ब्रिटेन-

2017 में आई वर्ल्ड बैंक की रिपोर्ट के मुताबिक ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था दुनिया की दस सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था वाले देशों में शामिल है। यहां लोगों की औसत आय 42,835 डॉलर (31,02,324 रुपए) है। काम के घंटे 9.85 डॉलर (713 रुपए) प्रति घंटा तय किए गए हैं जबकि सप्ताह में काम करने के घंटों की संख्या 42.3 है।

——————————–
Attachments area

Back to top button