विश्व कप 2019: विश्व कप से पहले इंग्लैंड टीम के इस दिग्गज ने छोड़ा साथ

अहम भूमिका निभाने वाले सहायक कोच पॉल फारब्रेस इस विश्व कप से पहले टीम का साथ छोड़ेंगे।

खिताब के प्रबल दावेदार माने जा रहे मेजबान इंग्लैंड को क्रिकेट विश्व कप 2019 से ठीक पहले करारा झटका लगेगा।

इंग्लैंड क्रिकेट टीम को ताकतवर बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले सहायक कोच पॉल फारब्रेस इस विश्व कप से पहले टीम का साथ छोड़ेंगे।

इंग्लैंड टीम के वेस्टइंडीज दौरे के बाद फारब्रेस राष्ट्रीय टीम को छोड़कर काउंटी टीम वॉरिकशायर के स्पोर्ट्स निदेशक बनेंगे।

वे मार्च के मध्य में यह नया दायित्व संभालेंगे और विश्व कप के दौरान इंग्लैंड टीम के साथ नहीं रहेंगे।

वनडे और टी20 फॉर्मेट में इंग्लैंड को ताकतवर टीम के रूप में उभारने में फारब्रेस की अहम भूमिका रही है।

वे अप्रैल 2014 में टीम से जुड़े थे और पीटर मूर्स को कोच पद से हटाए जाने|

ट्रेवर बेलिस के नए कोच के रूप में जुड़ने के बीच में उनके मार्गदर्शन में टीम ने आक्रामक खेल के जरिए अपनी विशेष पहचान बनाई थी।

फारब्रेस के मार्गदर्शन में श्रीलंका का 2014 में टी20 विश्व कप जीता था। वे इसके अलावा इंग्लैंड महिला टीम, इंग्लैंड अंडर-19 टीम और केंट टीम के कोच रहे।

उन्होंने इसके अलावा बांग्लादेश समेत कई राष्ट्रीय टीमों के कोचिंग के प्रस्ताव ठुकराए।

फारब्रेस ने कहा, इंग्लैंड टीम के साथ मेरा पांच साल का शानदार कार्यकाल रहा। विश्व स्तरीय कोचेस, खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ के साथ काम करना यादगार रहा।

मैं भाग्यशाली रहा कि इस दौरान कई शानदार सफलताएं टीम ने हासिल की। इस दौरान कई स्टार क्रिकेटर तैयार हुए।

उन्होंने कहा, किसी राष्ट्रीय टीम को छोड़ना कभी भी आसान नहीं होता है लेकिन वॉरिकशायर के प्रस्ताव के बाद मैंने आगे बढ़ने का फैसला किया।

मैं अपने करियर में नया मुकाम हासिल करना चाहता हूं। मैं इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी), कोच ट्रेवर बेलिस, इयोन मॉर्गन, जो रूट और एश्ले जाइल्स का उनके समर्थन के लिए शुक्रिया अदा करता हूं।

मैं उन्हें विश्व कप और एशेज सीरीज में सफलता के लिए शुभकामनाएं देता हूं।

फारब्रेस का कार्यकाल सितंबर में समाप्त होने जा रहा था। इंग्लैंड के चीफ कोच का पद उन्हें मिलता नहीं दिख रहा था और बोर्ड में बदलाव भी संभव दिख रहा था।

इसके चलते फारब्रेस ने समय रहते अच्छे प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया।

 

Back to top button