‘‘विश्व मासिक धर्म स्वच्छता दिवस परामर्श कार्यशाला संपन्न’’

उत्तर बस्तर कांकेर : आज से विश्व मासिक धर्म स्वच्छता दिवस मनाया जा रहा है। इसका मुख्य उद्देश्य समाज के लोगांे में फैली मासिक धर्म से संबंधित गलत अवधारणाओं एवं कुरूतियों को दूर करना और किशोरी बालिकाओं एवं महिलाओं को मासिक धर्म के समय स्वच्छता व सेनेटरी पैड का उपयोग कर बीमारियों से बचने एवं लोगों को मासिक धर्म के संबंध में खुलकर बात करने और लोगों के मन में चल रहे भ्रंातियों को दूर करना है।

इस संबंध में आज जिला पंचायत कांकेर के सभाकक्ष में कार्यशाला का आयोजन किया गया, जिसके मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष सुभद्रा सलाम थी। उन्होंने अपने उद्बोधन में कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में मासिक धर्म स्वच्छता प्रबंधन पर महिलाओं, स्कूली छात्राओं एवं किशोरी बालिकों को विशेशरूप् से जागरूक किया जावे।

कार्यशाला में जिला पंचायत उपाध्यक्ष कृश्णा देवी सिन्हा, सदस्य धीरज नेताम, अमिता जीवन कांडे, ललेश्वरी टांडिया एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला पंचायत कांकेर डॉ. संजय कन्नौजे तथा जिला स्वास्थ्य एवं चिकित्सा विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, शिक्षा विभाग तथा स्थानीय समुदाय से स्वच्छाग्राही स्व सहायता समूहों की महिलाएं गैर शासकीय संस्थान, मीडिया सहभागिता के रूप में उपस्थित रहे।

मासिक धर्म स्वच्छता दिवस परामर्श कार्यशाला का शुभारंभ उपस्थित अतिथियों द्वारा महात्मा गांधी के छायाचित्र पर दीप प्रज्जवलित कर किया गया। त्त्पश्चात यूनिसेफ संस्था द्वारा मासिक धर्म के उद्देश्य पर प्रस्तुतिकरण किया गया। स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्वच्छता मासिक प्रंबधन विशय पर चर्चा किया गया तथा नर्सिंग कॉलेज के छात्राओं, स्व-सहायता समूह की महिलाएं, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के द्वारा अनुभवों को साझा किया गया।

कार्यशाला में रंगोली प्रतियोगिता व सेल्फी जोन का भी आयाोजन किया गया। रंगोली प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर पूजा स्व-सहायता समूह बागोडार, द्वितीय स्थान पर जी.एन.एम. कॉलेज कांकेर, तृतीय स्थान दन्तेश्वरी स्व-सहायता समूह माटवाड़ा लाल रहे।

Back to top button