अंतर्राष्ट्रीय

पनामा पेपर्स का खुलासा करने वाली पत्रकार की हत्या, कार में हुआ था बम विस्फोट

वलेत्ता: माल्टा के विदेशी कर पनाहगाह के बारे में खुलासा करने वाली खोजी पत्रकार की उनकी कार में बम विस्फोट होने से मौत हो गई. उन्होंने लीक हुए पनामा पेपर्स के जरिए कर चोरी के लिए दूसरे देशों में पनाहगाहों से द्वीपीय देश के संबंधों का खुलासा किया था.

प्रधानमंत्री जोसेफ मस्कट ने बताया कि 53 वर्षीय डेफ़्ने कारूआना गालिज़िआ माल्टा के मुख्य द्वीप में स्थित बड़े शहर मोस्टा में अपने घर से निकली ही थीं कि बम विस्फोट हो गया जिससे उनकी कार के परखच्चे उड़ गए.

मस्कट ने कहा कि पत्रकार की मौत एक ‘बर्बर हमला’ है जो अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर भी हमला है. उन्होंने पत्रकार की हत्या की निंदा करते हुए कहा कि पत्रकार राजनीतिक और व्यक्तिगत स्तर पर मेरी कटु आलोचक थीं, लेकिन वह उनकी हत्या की निंदा करते हैं.

महिला पत्रकार ने वर्ष 2016 में लीक हुए पनामा पेपर्स में माल्टा के संबंधों के बारे में लिखा था. उन्होंने लिखा था कि मस्कट की पत्नी और सरकार के चीफ ऑफ स्टाफ की, अजरबेजान से धन देने के लिए पनामा में विदेशी कंपनी थी.

कानून प्रवर्तन अधिकारियों ने आज माल्टा के अखबारों को बताया कि डेफ्ने ने दो सप्ताह पहले पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि उन्हें धमकियां मिल रही हैं.

Summary
Review Date
Reviewed Item
पनामा पेपर्स
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *