तीन दिन पर क्यों नहाती हैं यह महिला राजनेता, जानकर हैरान रह जाएंगे आप

केप टाउन: ज्यादातर लोग ऐसा मानते हैं कि अगर आप रोज नहाते हैं तो यह आपकी एक अच्छी आदत है, पर आपको एक महिला राजनेता के न नहाने के तर्क को भी जानना चाहिए।

जी हां, उनका कहना है कि पानी बचाने के लिए वह तीन दिन में केवल एक बार नहाती हैं। हेलेन जिल दक्षिण अफ्रीका की एक जानीमानी राजनेता हैं।

पानी के इस्तेमाल और फेक न्यूज के मुद्दों पर उनकी तुलना अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप से की जाती है।

वेस्टर्न केप की प्रीमियर हेलेन जिल भले ही तीन दिन में केवल एक बार नहाएं पर वह साफ-सफाई को लेकर कोई समझौता नहीं करती हैं।

उन्हें देखकर कोई नहीं कह सकता कि वह नहाई नहीं हैं। गौरतलब है कि भारत समेत दुनिया के कई देशों में पानी का संकट पैदा हो रहा है।

ऐसे में दक्षिण अफ्रीका में पानी के इस्तेमाल को लेकर भी बहस हो रही है। मीडिया में भी इस पर काफी कुछ लिखा जा रहा है।

इस बहस की शुरुआत भी जिल को लेकर एक अखबार में आई रिपोर्ट से हुई। इसमें कहा गया कि प्रीमियर के सरकारी आवास पर रखे गए वॉटर प्योरिफाइर पर करदाताओं के करीब 5,000 ब्रिटिश पाउंड खर्च किए गए हैं।

रिपोर्ट में प्रीमियर की आलोचना करते हुए कहा गया कि एक तरफ सूखे के कारण शहर में पानी की आपूर्ति सीमित है वहीं जिल के आवास पर टेबल माउंटेन से आने वाले पानी को शुद्ध करने के लिए महंगा वॉटर प्योरिफाइर लगाया गया है।

आगे कहा गया कि घर में रहने वाले लोग हर रोज करीब 165 लीटर पानी खर्च कर रहे हैं, जो शहर में रहने वाले प्रति व्यक्ति के पानी के खर्च से दोगुना है।

इस पर जिल ने एक लंबा जवाब देते हुए कहा कि पत्रकार ने 2 और 2 को मिलाकर 22 कर दिया। उन्होंने कहा, ‘मेरे पति और मैं दोनों काफी कम पानी खर्च करते हैं।

कभी-कभी तो मैं इतना कम पानी खर्च करती हूं कि मुझे अपनी स्वच्छता और स्वास्थ्य को लेकर चिंता होने लगती है।

मैं तीन दिन में केवल एक बार ही शॉवर लेती हूं और दूसरे दिनों में हैंड बेसिन से ही काम चला लेती हूं।’

Back to top button