अंतर्राष्ट्रीय

अब पाक में खुलेगा चीन का सरकारी बैंक, मिली मंजूरी

कराची: पाकिस्तान और चीन की बढ़ती दोस्ती किसी से नहीं छिपी। चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे को आर्थिक तौर पर मजबूती देने के मकसद से अब पाकिस्तान में पेइचिंग का दूसरा बैंक खुलने जा रहा है।

बैंक ऑफ चाइना (SBP) लिमिटेड अब पाकिस्तान में जल्द ही अपनी शाखा खोल सकता है। SBP चीन सरकर द्वारा चलाई जा रही इनवेस्टमेंट कंपनी चाइना सेंट्रल हुईजिन के अधीन काम करता है।

यह बैंक 50 देशों में फैला हुआ है, जिनमें से 19 चीन के वन बेल्ट, वन रोड पहल के तहत आते हैं। बैंक ऑफ चाइना दूसरा चीनी बैंक है जो पाकिस्तान में एंट्री कर रहा है।

इससे पहले साल 2011 से इंडस्ट्रियल ऐंड कमर्शल बैंक ऑफ चाइना पाकिस्तान में काम कर रहा है।

इसी साल मई में बैंक ऑफ चाइना को पाकिस्तान में काम करने के लिए लाइसेंस मुहैया कराया गया था। यह बैंक वैश्विक स्तर पर कुल संपत्ति के मामले में 5वां सबसे बड़ा बैंक है।

बैंक शंघाई स्टॉक एक्सचेंज और हॉन्ग-कॉन्ग स्टॉक एक्सचेंज में भी लिस्टेड है।

पाकिस्तानी अखबार ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ की खबर के मुताबिक इस बैंक के पाकिस्तान में खुलने के बाद न सिर्फ दोनों देशों के द्विपक्षीय रिश्ते प्रगाढ़ होंगे, बल्कि यह इस्लामाबाद के बैंकिंग सेक्टर में विदेशी निवेशकों के बढ़ते भरोसे को भी दिखाएगा।

पाकिस्तान में, बैंक ऑफ चाइना का मकसद कुछ खास बैंकिंग सर्विसेज देना है ताकि 55 अरब डॉलर वाले चीन-पाकिस्तान इकनॉमिक कॉरिडोर (CPEC) के तहत आने वाले प्रॉजेक्ट्स को आर्थिक मदद दी जा सके।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button