अंतर्राष्ट्रीय

टैक्स फ्री इमेज खत्म करेंगे खाड़ी के देश, लगाएंगे VAT

दुबई: तेल से होने वाली आमदनी में भारी गिरावट के बाद अब खाड़ी देशों ने अपनी अर्थव्यवस्था में जान डालने के लिए अगले साल से 5 फीसदी वैल्यू ऐडेड टेक्स (वैट) लगाने का फैसला किया है।

इस फैसले से इन देशों में काम कर रहे कम आय वाले लोगों के लिए परेशानी पैदा हो जाएगी क्योंकि अब तक ये देश टैक्स फ्री रहे हैं।

गल्फ कोऑपरेशन काउंसिल (जीसीसी) के छह देशों में से दो यूनाइटेड अरब अमीरात (यूएई) और सऊदी अरब ने 1 जनवरी, 2018 से वैट लागू करने का फैसला लिया है जबकि बाकी के चार देश बहरीन, कुवैत, ओमान और कतर उसके बाद इस पर अमल करेंगे।

संयुक्त अरब अमीरात में आज से तंबाकू की कीमत दो गुनी हो गई है और सॉफ्ट ड्रिंक की कीमतों में 50 फीसदी बढ़ोतरी कर दी गई है।

तेल ने बिगाड़ा खेल

2014 में तेल के दाम में गिरावट होने से दुनिया के सबसे बड़े तेल और तरल प्राकृतिक गैस के बड़े निर्यातक खाड़ी देशों की अर्थव्यवस्था चरमरा गई है।

इंटरनैशनल मॉनिटरी फंड ने अर्थव्यवस्था की हालत को दुरुस्त करने के लिए इन देशों को कुछ किफायती उपाय सुझाए थे जैसे सबसिडी में कटौती, तेल एवं बिजली के दामों में बढ़ोतरी, आम लोगों को दिए जाने वाले फंड और सरकारी फंड वाली परियोजनाओं में कटौती आदि। इन उपायों के बावजूद भी उनकी बैलेंस शीट्स लाल निशान में हैं।

घाटे से निपटने के लिए इलाके की सरकारों ने अपने सॉवरेन वेल्थ रिसोर्सेज में से भी अरबों डॉलर निकाल लिए हैं, लेकिन इसके बावजूद भी अर्थव्यवस्था पस्त है।

इसे देखते हुए अब छह देशों की सरकारों ने अपनी टैक्स फ्री इमेज को खत्म करके वैट लगाने का फैसला लिया है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
VAT
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *