उ. कोरिया के खिलाफ ‘सैन्य कार्रवाई’ के लिए तैयार अमेरिका, विध्वंसक होंगे परिणाम: ट्रंप

वाशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि उनका देश उत्तर कोरिया के खिलाफ ‘सैन्य विकल्प’ के लिए पूरी तरह तैयार है.

उन्होंने आगाह किया कि दोनों देशों के बीच आगे और तनाव बढ़ने की स्थिति में ऐसा करना विध्वंसकारी होगा. बता दें कि उत्तर कोरिया ने कहा था कि वह अमेरिका के बमवर्षक विमानों को गिराकर अपनी रक्षा करने के लिए तैयार है.

उसके इस बयान के एक दिन बाद अमेरिका के राष्ट्रपति की ओर से यह कड़ी प्रतिक्रिया आई है. इस सप्ताह न्यूयॉर्क में मौजूद रहे उत्तर कोरिया के विदेश मंत्री रि योंग हो ने ट्रंप पर उनके देश के खिलाफ युद्ध छेड़ने का आरोप लगाया.

ट्रंप ने देश की यात्रा पर आए स्पेन के प्रधानमंत्री मार्यानो राहॉय के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘हम दूसरे (सैन्य) विकल्प के लिए पूरी तरह तैयार हैं.

इस विकल्प को हम वरीयता नहीं देते, लेकिन अगर हम यह विकल्प अपनाते हैं तो यह विध्वंसकारी होगा. मैं आपको बता सकता हूं कि यह उत्तर कोरिया के लिए विध्वंसकारी होगा. अगर हमें सैन्य विकल्प अपनाना पड़ा तो हम अपनाएंगे.’

एक सवाल का जवाब देते हुए ट्रंप ने कहा कि उत्तर कोरियाई नेता (किम जोंग उन) ‘बहुत बुरी तरह व्यवहार’ कर रहे हैं. अमेरिकी राष्ट्रपति ने आरोप लगाया कि वह ऐसी बातें कह रहे हैं जो पहले कभी नहीं कही गईं.

उन्होंने कहा, ‘हम उन बातों का जवाब दे रहे हैं लेकिन यह जवाब है. यह मूल बयान नहीं है, यह जवाब है. लेकिन पिछले कुछ वर्षों से जैसा वह कह रहे हैं और अगर आप देखें कि उन्होंने पिछली सरकारों से क्या कहा तो आप पाएंगे कि उत्तर कोरिया ऐसी स्थिति है जिससे 25 साल पहले, 20, 15, 10 और पांच साल पहले ही निपटा जाना चाहिए था. तब उससे अधिक आसानी से निपटा जा सकता था.

ट्रंप ने कहा, ‘कई सरकारों ने उनके (ट्रंप) लिए परेशानियां छोड़ीं और वह परेशानियां दूर करेंगे. हम देखेंगे कि उत्तर कोरिया के साथ क्या होता है.

‘ उन्होंने कहा कि उत्तर कोरिया के परमाणु हथियार और मिसाइल कार्यक्रम पूरी दुनिया के लिए खतरा हैं इसलिए सभी देशों को उत्तर कोरिया को परमाणु मुक्त बनाने के लिए कार्रवाई करनी चाहिए.

उन्होंने कहा, ‘मैंने हाल ही में उन देशों के खिलाफ नए कड़े प्रतिबंध लगाए हैं जिन्होंने उत्तर कोरिया के साथ कारोबार किया.

मैं उत्तर कोरिया के साथ व्यापार कम करने के चीन के कदम की प्रशंसा करता हूं.’ ट्रंप ने उत्तर कोरिया के साथ सभी बैंकिंग संबंध तोड़ने के लिए चीन की सराहना की.

उन्होंने कहा, ‘मैं राष्ट्रपति शी चिनफिंग को धन्यवाद देना चाहता हूं.’ एक सवाल के जवाब में स्पेन के प्रधानमंत्री राजोय ने कहा कि कोई भी दुनिया में कहीं भी युद्ध नहीं चाहता.

इस बीच, एपी की एक खबर के मुताबिक देश के शीर्ष सैन्य अधिकारी, ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ के चेयरमैन मरीन कोर्प जनरल जोसेफ डनफोर्ड ने कहा कि अलग-थलग पड़े उत्तर कोरिया की अमेरिकी युद्धक विमानों को मार गिराने की धमकी के बावजूद उसके सैन्य रूख में कोई बदलाव नहीं देखा गया.

मरीन कोर्प जनरल जोसेफ डनफोर्ड ने सीनेट की सशस्त्र सेवा समिति से कहा, ‘हमने ऐसी कोई सैन्य गतिविधि नहीं देखी जो तनावपूर्ण राजनीतिक माहौल के लिए चिंतनशील होगी.’

Back to top button