पहलवान सागर राणा हत्याकांड: कुछ लोगों ने सुशील कुमार की बेइज्जती की थी

सागर धनकड़ की 30 से ज्यादा हड्डियां तोड़ दी थीं

नई दिल्ली:ओलंपियन सुशील कुमार समेत 20 से ज्यादा लोग जूनियर पहलवान सागर धनखड़ की पौने घंटे तक पिटाई करते थे. आरोपी सागर पर बेसबॉल का बैट, हॉकी व डंडे बरसाते रहे और उन्होंने सागर धनकड़ की 30 से ज्यादा हड्डियां तोड़ दी थीं.

अब कुछ चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं. 4 मई को पहलवान सागर की हत्या हुई थी. जांच में पता चला है कि उस दिन छत्रसाल स्टेडियम में कुछ लोगों ने सुशील कुमार की बेइज्जती की थी और इसी का बदला लेने के लिए उन्होंने हरियाणा से गुंडे बुलाए थे. रात में इन गुंडों ने मारपीट की जिसमें सागर की मौत हो गई. आखिर क्या हुआ था 4 मई को? आइए जानते हैं.

दरअसल, बीती 4 मई को वारदात वाले दिन कुख्यात गैंगस्टर काला जठेड़ी के ममेरे भाई सोनू, रविन्द्र और अन्य का मॉडल टाउन वाले फ्लैट को लेकर पहलवान सुशील से झगड़ा हो गया था. उन लोगों ने सुशील पर हावी होकर उसकी शर्ट का कॉलर पकड़ लिया था.

इतना ही नहीं, उसे देख लेने की धमकी देते हुए दौड़ा भी दिया था. जिसके बाद सुशील को अपनी बेइज्जती नागवार गुजरी. खुन्नस और तनाव में आकर उन्होंने उसी दिन बदला लेने की ठान ली. इसके लिए सुशील ने कुख्यात नीरज बवाना और असौदा गिरोह के बदमाशों का सहारा लिया.

पुलिस का कहना है कि 4 मई को दिन में सुशील जब छत्रसाल स्टेडियम आए तब उनके साथ ज्यादा पहलवान नहीं थे. स्टेडियम में अचानक उनकी सोनू, सागर, अमित, भक्तु, रविन्द्र और विकास वगैरह से कहासुनी हो गई. सुशील को जबरदस्त तरीके से अपमानित भी किया गया.

उस समय तो सुशील स्टेडियम से चले गए, लेकिन अपमान का बदला लेने के लिए उन्होंने तुरंत उन लोगों को सबक सिखाने की ठान ली. अजय और अन्य साथियों के साथ मिलकर उन्होंने बदमाशों को फोन कर तुरंत हरियाणा से दिल्ली बुला लिया. पहले किसी अन्य जगह पर सभी जमा हुए. वहां कई ने शराब पी और खाना खाया.

इसके बाद 5-6 कारों में सवार होकर वो लोग देर रात 12 बजे शालीमार बाग में रविन्द्र के घर पर पहुंचे. रविन्द्र उस समय अपने घर के नीचे एक दुकान के सामने खड़ा होकर आइसक्रीम खा रहा था. रविन्द्र और उसके साथी विकास को उन लोगों ने अपनी कार में बैठाकर अगवा कर लिया. इसके बाद सभी मॉडल टाउन स्थित सोनू के फ्लैट के पास पहुंचे.

वहां से सोनू, सागर, अमित और भक्तु को कार में बैठाकर सभी को रात करीब एक बजे छत्रसाल स्टेडियम ले आए. यहां पार्किंग एरिया में सभी छह पहलवानों को घेरकर सुशील और उसके साथ आए बदमाशों ने लाठी, डंडे, हॉकी स्टिक आदि से बुरी तरह जानवरों की तरह पिटाई शुरू कर दी. कोर्ट को पुलिस ने बताया है कि इन लोगों ने सागर, सोनू और अन्य की जानवरों की तरह पिटाई की थी. सोनू को पेशाब पिलाने की भी कोशिश की गई थी.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button