यशवंत सिन्हा: ज्यादा मोटरसायकिलें और कार बिकना क्या विकास है?

मोदी सरकार पर लगातार हमला कर रहे बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने एक बार फिर सरकार की आर्थिक नीतियों पर निशाना साधा.

सिन्हा ने रविवार को ‘राजशक्ति’ पर अंकुश के लिए ‘लोकशक्ति’ का आह्वान किया. उन्होंने सवाल उठाया कि कारें और मोटरसाइकिलें अधिक बिकने का मतलब क्या प्रगति है?

उन्होंने जीएसटी और नोटबंदी को लेकर भी केंद्र सरकार को निशाना बनाया. महाराष्ट्र के विदर्भ क्षेत्र के अकोला में किसानों के गैर सरकारी संगठन शेतकारी जगर मंच द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए यशवंत सिन्हा ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा.

जेपी का जिक्र करते हुए सिन्हा ने लोकशक्ति आंदोलन की अपील की जो कि राजसत्ता पर नियंत्रण रखेगी.

सिन्हा ने कहा, ‘‘हम यह लोकशक्ति पहल अकोला से शुरू करें.’’ सिन्हा ने कहा, ‘‘हम पहले से मंदी का सामना कर रहे हैं. और आंकड़ों का क्या? आंकड़े एक चीज साबित कर सकते हैं तो उसी आंकड़े से दूसरी चीज भी साबित की जा सकती है.’’

यशवंत सिन्हा ने पटना में अमित शाह के बेटे वाले मुद्दे पर भी बीजेपी और पीयूष गोयल पर निशाना साधा. उन्होंने इस मामले में पीयूष गोयल और सॉलिसिटर जनरल के आगे आने को आड़े हाथों लिया.

1
Back to top button