अलविदा 2017: भारतीय क्रिकेट में ‘विराट युग’ के आगाज का गवाह बना यह साल

विराट कोहली और उनकी टीम इंडिया ने मैदान पर इतनी जबरदस्त कामयाबियां हासिल की हैं

अलविदा 2017: भारतीय क्रिकेट में ‘विराट युग’ के आगाज का गवाह बना यह साल

साल 2017 के बीच ने भले ही अभी कुछ वक्त बचा हो, लेकिन टीम इंडिया के लिए यह साल खत्म हो चुका है. भारतीय क्रिकेट टीम के लिहाज से देखें तो यह साल विराट कोहली की कप्तानी से शुरू होकर उनकी शादी पर आकर खत्म हुआ. लेकिन ऐसा नहीं है कि कोहली बस साल के आरंभ या अंत में ही चर्चा में रहे हों. इस साल विराट कोहली और उनकी टीम इंडिया ने मैदान पर इतनी जबरदस्त कामयाबियां हासिल की हैं कि यह साल उनके फैंस को हमेशा याद रहेगा.

सुप्रीम कोर्ट के हथौड़े से हुई शुरुआत

भारतीय क्रिकेट के लिए इस साल की शुरुआत बेहद विवादास्पद रही. सुप्रीम कोर्ट ने साल के दूसरे ही दिन यानी दो जनवरी को बीसीसीआई के अध्यक्ष अनुराग ठाकुर और सेक्रेटरी अजय शिर्के को बर्खास्त कर दिया. इसके बाद विराट कोहली को वनडे और टी-20 का भी कप्तान बनाए जाने खबर आई. एमएस धोनी के कप्तानी छोड़ने के बाद अब विराट क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में टीम इंडिया के कप्तान बने.

जीत के साथ हुई कैप्टन कोहली की एंट्री

उस वक्त इंग्लैंड की टीम भारत दौरे पर थी. कोहली की कप्तानी में भारत ने टेस्ट सीरीज में तो उसको मात दी ही, साथ ही कोहली ने अपनी वनडे और टी-20 में अपनी कप्तानी की शुरुआत इंग्लैंड को सारीज में मात देकर की.

इसके बाद भारत ने बांग्लादेश के खिलाफ इकलौता टेस्ट भी जीता. फिर शुरू हुआ ऑस्ट्रेलिया का भारत दौरा. पहले टेस्ट में पुणे के मैदान पर कंगारुओं ने भारत को 333 रन से मात देकर फैंस के माथे पर शिकन ला दी. लेकिन इसके बाद टीम इंडिया ने 2-1 से जीतकर विजयपथ की अपनी यात्री जारी रखी.

चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में भारत

इसी साल जून में इंग्लैंड में खेली गई चैंपियंस ट्रॉफी में भारत ने फाइनल में जगह बनाई . फाइनल में मुकाबला आर्च राइवल पाकिस्तान के साथ था. इस साल यही वह मैच था जिसमें टीम इंडिया ने अपने फैंस को निराश किया और पाकिस्तान भारत के हाथों से चैंपियंस ट्रॉफी छीनने में कामयाब हो गया. इस दौरान कोच कुंबले और कप्तान कोहली के बीच तनाव की खबरें भी आईं. आखिरकार कुंबले को कोच का पद छोड़ना पड़ा और रवि शास्त्री टीम इंडिया के कोच बने.

शास्त्री की कोचिंग में भारत ने पहला दौरा श्रीलंका का किया. इससे पहले वेस्टइंडीज गई टीम इंडिया ने कैरेबियाई टीम को वनडे सीरीज में 3-2 से मात दी. श्रीलंका में भारत ने टेस्ट, वनडे और टी-20 सीरीज में क्लीन स्वीप किया. भारत लौटकर टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया की लिमिटेड ओवरों के मैचों में मेजबानी की और जीत हासिल की. इस बीच फिरकी गेंदबाज कुलदीप यादव हैट्रिक लेने वाले तीसरे भारतीय गेंदबाज बने.

इसके बाद श्रीलंका के भारत दौरे की बारी आई. टीम इंडिया ने टेस्ट सीरीज में श्रीलंका को 1-0 से मात देकर लगातर नौवीं टेस्ट सीरीज जीतकर ऑस्ट्रेलिया के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली. फिर वनडे सीरीज में जब कोहली ने अपनी शादी के ले लिए छुट्टी ली तो कमान रोहित के हाथ में आ गई. कोहली ने इटली जाकर अपनी प्रेमिका और फिल्म अभिनेत्री अनुष्का शर्मा से विवाह रचाया तो इधर टीम इंडिया ने श्रीलंका को मात देकर अपने कप्तान को शादी का तोहफा दिया

टीम इंडिया ने वनडे सीरीज में 2-1 से जीत हासिल की, जबकि टी-20 सीरीज में श्रीलंका का व्हाइटवॉश करके साल का बेहतरीन अंत किया. इसी दौरान रोहित शर्मा वनडे क्रिकेट में तीसरी बार दोहरा शतक लगाने वाले खिलाड़ी बने.

इस साल भारतीय टीम आईसीसी में टेस्ट रैंकिंग में नंबर वन और वनडे, टी-20 रैंकिंग में नंबर टू रही. भारतीय टीम में कोहली युग के आगाज के पहले साल तो ज्यादातर मुकाबले घरेलू धरती पर ही खेले गए. लेकिन अब बारी नए साल पर नई चुनौतियों की है जिसकी शुरुआत साउथ अफ्रीका में आगामी पांच जनवरी से हो रही है.

advt
Back to top button