मन को एकाग्र करने का साधन है योग: स्वामी परमात्मानंद

रायपुर।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामण्डलम के अध्यक्ष स्वामी परमात्मानंद के मार्गदर्शन में न्यू राजेन्द्र नगर रायपुर स्थित कार्यालय में योगाभ्यास कार्यक्रम आयोजित हुआ।

स्वामी परमात्मानंद ने कहा कि मन, बुद्धि एवं अंहकार आदि चित्त वृत्तियों का संयम योग के माध्यम से संभव है। योग से मन की एकाग्रता, अनुशासन तथा नैतिकता की भावना विकसित होती है।

योग भारतीय विरासत की अनुपम देन है। लक्ष्मण प्रसाद साहू द्वारा कपालभाति, अनुलोम-विलोम, भ्रामरी सहित विभिन्न आसनों का अभ्यास कराया गया। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ विद्यामण्डलम के सचिव डॉ. सुरेश कुमार शर्मा, चंद्रभानु वर्मा, आभारानी चतुर्वेदी, आरआर घरडे सहित सभी अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

Back to top button