बिज़नेस

योगी आदित्यनाथ ने कर्नाटक में किया क्लीन स्वीप

नई दिल्ली : कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजे मंगलवार को घोषित किए गए। राज्य में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का नाम भी बीजेपी की स्टार प्रचारकों की लिस्ट में शामिल था। राज्य में उनके प्रचार करने पर सीएम सिद्धरमैया समेत कई कांग्रेसी नेताओं ने सवाल भी उठाए थे, लेकिन योगी के प्रचार का बीजेपी को बहुत फायदा हुआ है। उन्होंने जिन इलाकों में रैली की वह मतदाताओं को बीजेपी के पक्ष में बूथ स्तर तक खींचने में सफल रहे।

मई के पहले हफ्ते में उत्तर भारत के कई राज्यों में तूफान ने तबाही मचाई, जिसमें उत्तर प्रदेश भी शामिल था। इस पर यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव, कर्नाटक के सीएम सिद्धरमैया सहित कई नेताओं ने योगी के कर्नाटक में रहने पर सवाल उठाए थे। इस तूफान से सबसे ज्यादा तबाही उत्तर प्रदेश में ही हुई थी। इसी के मद्देनजर योगी आदित्यनाथ ने अपना कर्नाटक का प्रचार बीच में छोड़कर उत्तर प्रदेश वापस लौटे। हालांकि चुनाव के आखिरी दौर में वह फिर कर्नाटक लौटे और अंतिम समय तक प्रचार किया।

जीत दिलाने में मोदी-शाह से आगे योगी : यूपी के सीएम उन प्रचारकों में शामिल हैं, जिनके प्रचार का असर चुनाव के नतीजों में भी देखने को मिलता है। योगी कर्नाटक के जिन इलकों में पार्टी उम्मीदवारों के पक्ष में प्रचार, रैलियां,सभाएं की। उन सीटों पर बीजेपी को जीत मिली है। योगी ने राज्य में 33 सीटों या उनसे लगे इलाकों में पार्टी के लिए प्रचार किया था। रैलियों वाले इलाकों में जीत दिलाने के मामले में योगी आदित्यनाथ मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह से भी आगे रहे हैं। इससे पहले योगी आदित्यनाथ ने त्रिपुरा की नाथ बहुल्य सीटों पर चुनाव प्रचार किया था। वहां भी उनको सफलता हाथ लगी।

बता दें कि योगी आदित्यनाथ नाथ संप्रदाय से आते हैं और बीजेपी इस संप्रदाय के मतदाताओं को लुभाने के लिए उन्हें प्रचारक उतारती है। दक्षिण कर्नाटक और उडुपी में नाथ संप्रदाय के लोगों की मौजूदगी ज्यादा है। इसके अलावा कांग्रेस के लिंगायत कार्ड के जवाब में बीजेपी संगठित हिदुत्व का नारा दे रही थी। जिसे योगी ने अपनी रैली में प्रमुखता से उठाया।

इन सीटों पर किया था प्रचार : योगी आदित्यनाथ ने सिरसी, सागर, बालेहोनरू, बेलूर, होनाहाली, हलियाला, मूदेबिहाला, मूधोल, तेरदाल, धारवाड़, भाल्की, हुमानाबाद, गोकाक, खानपुर, यमकनम्रदी, ग्रामीण बेलगाम का दौरा किया. इसके अलावा उन्होंने बिंदूर, भटकल, मूदबिंद्रे, विराजपेट, सूलिया, हिरेकेरूरू, हसपेट, अतिबेले, साहकरनगर, इंदी, चदचान और बंटावाल में जनसभाएं, रोडशो और बैठकें की थीं. इन सभी इलाकों और इससे संबंधित सीटों पर बीजेपी के उम्मीदवारों को फायदा हुआ है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.