योगी बोले- अखिलेश नाक रगड़ते हुए 10 सीटों पर भी मान जाते, मायावती ने कृपा बरसा दी

लखनऊ।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने लोकसभा चुनाव से पहले सपा-बसपा के गठबंधन पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि बसपा प्रमुख मायावती, अखिलेश को दस सीटें भी देतीं तब भी वह गठबंधन के लिए मान जाते। यूपीतक के एक कार्यक्रमें सीएम योगी ने कहा, मायावती जी ने सपा पर कृपा कर दी। वरना सपा को वह दस सीटें भी देतीं तो अखिलेश यादव नाक रगड़कर दस सीटें लेते।

योगी ने कहा, क्योंकि अखिलेश यादव को मालूम है कि उनके लिए कन्नौज की सीट बचाने भी मुश्किल पड़ रही है। इटावा, मैनपुरी की बात तो बहुत दूर सपा को कन्नौज की सीट बचाना मुश्किल पड़ रही है। इसलिए खुद की सीट बचाने के लिए उन्हें गठनबंधन बनाने को मजबूर होना पड़ा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ ने अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा,सपा के संस्थापक मुलायम सिंह यादव इस गठबंधन के खिलाफ थे। क्योंकि पिछली सपा ने मुलायम सिंह को पीएम के रूप में प्रस्तुत किया। मगर इस बार उन्हें और पीछे ढकेल दिया।

संदेह कि अखिलेश इस बार मुलायम सिंह को टिकट देते हैं या नहीं। हालांकि योगी ने साफ किया इन दोनों के गठबंधन से भाजपा को कोई फर्क नहीं पड़ने वाला। भाजपा इस बार भी चुनाव में शानदार प्रदर्शन करेगी और सपा-बसपा के गठबंधन को ध्वस्त करेगी।

बता दें कि शनिवार (12 जनवरी, 2019) को सपा-बसपा के गठबंधन के तुरंत बाद भी योगी आदित्य नाथ ने दोनों पार्टियों पर निशाना साधते हुए कहा कि विपक्षी दलों का कोई भी महागठबंधन अराजकता, भ्रष्टाचार और राजनीतिक अस्थिरता लेकर आएगा।

योगी ने कहा, जो लोग एक-दूसरे को पसंद नहीं करते हैं, वे महागठबंधन के बारे में बातें कर रहे हैं। यह गठबंधन भ्रष्टाचार, अराजकता और राजनीतिक अस्थिरता के लिए है। योगी ने राष्ट्रीय परिषद की बैठक में कहा कि भाजपा ने समाज के सभी वर्गों के विकास और लोगों की आस्था के सम्मान पर ध्यान देकर राम और रोटी को सम्मानित किया।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने कांग्रेस पर भी हमला बोला और कहा कि पार्टी ने परिवार के हित को आगे बढ़ाया, जातिवाद, क्षेत्रवाद को बढ़ावा दिया और देश को 50 साल तक अनिश्चितता की स्थिति में रखा।

उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा ने समाज के सभी वर्गों के लिए कल्याणकारी योजनाओं और सुशासन के माध्यम से देश को इस स्थिति से बाहर निकाला। योगी ने कहा कि आगामी लोकसभा चुनावों में भाजपा 2014 के मुकाबले बेहतर प्रदर्शन करेगी और मोदी के नेतृत्व में एक बार फिर एक मजबूत एवं सक्षम सरकार बनाएगी।

Back to top button