महिला सुरक्षा पर योगी सरकार की खुली पोल, सामने आए दुष्कर्म के 5 नए मामले

इटावा, एटा, नोएडा, हाजीपुर, शिवपुरी से आए दुष्कर्म के नए मामले

उत्तरप्रदेश: उत्तरप्रदेश में योगी सरकार के महिला सुरक्षा के तमाम दावे अब हवा होते जा रहे है. यूपी के उन्नाव गैंगरेप के बाद भी यूपी सरकार ने कई दावे किए मगर सभी वादे ध्वस्त हो गए. एक बार फिर यूपी के पांच अलग-अलग इलाकों से नाबालिगों से दुष्कर्म का मामला सामने आया हैं. जिनमे से तीन मामलों में रेप के बाद हत्या कर दी गई.

पहला मामला एटा का हैं जहां शादी समारोह में गई एक 7 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म कर उसकी गला रेत कर हत्या कर दी गई. जयमाला कार्यक्रम के दौरान बच्ची गायब हो गई, बताया जा रहा हैं की डीजे की आवाज में बच्ची की चीखने चिलाने की आवाज़ सुनाई नहीं दी. इस मामले में एक युवक को गिरफ्तार किया गया है।

दूसरा मामला इटावा का हैं जहां शौच के लिए घर से निकली दो सगी बहनों के साथ दुष्कर्म के बाद उनकी हत्या कर शव को खेत में फेक दिया. घटना बसरेहर थाना क्षेत्र की हैं जहां दोनों बहने शाम को शौच के लिए निकली और जब देर रात तक घर नहीं पहुची तो तलाश शुरू की गई। हिसके बाद इस घटना का पता चला.

तीसरा मामला गंगोह का है जहां दिन दहाड़े घर में घुस कर नाबालिग़ के साथ दुष्कर्म का प्रयास किया गया और उसकी अश्लील तस्वीरे खीचने कि कोशिश की गई. नाबालिग़ के शोर करने पर मोहल्लावासियों ने आरोपी युवकों को रंगे-हाथों धर दबोचा.

चौथा मामला नोएडा के थाना क्षेत्र फेज-3 का हैं जहां एक युवती को दो युवको ने जबरन अपनी कार में बैठाकर लिया और होटल में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया।

पाचवां मामला बिहार के वैशाली जिले के महनार थाना क्षेत्र के वासुदेवपुर चंदेल का हैं जहाँ गांव के ही 2 लोगों पर 5 साल की बच्ची को किडनैप कर गैंगरेप करने का आरोप हैं। पीड़िता बच्ची को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।

Back to top button