योगी के बयान को मंत्री ने दिया गलत करार, बोले -भगवान को जातियों में बांटना गलत

विवादित बयान देने के लिए अपनी ही सरकार की आलोचना की

नई दिल्ली :

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार में मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने हनुमान जी की जाति को लेकर दिए बयान पर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा है कि भगवान को जातियों में बांटना गलत है

रविवार को शामली जिले में एक जनसभा को संबोधित करते हुए पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री ने विवादित बयान देने के लिए अपनी ही सरकार की आलोचना की. उन्होंने कहा कि भगवान को जातियों में बांटना गलत है और इसी विवाद की वजह से दलित समुदाय अब हनुमान मंदिरों को अपने अधिकार में लेने की मांग कर रहा है.

इससे पहले रविवार को ही भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर ने कहा था कि समुदाय के सदस्यों को देश के सभी हनुमान मंदिरों को अपने अधिकार में ले लेना चाहिए और वहां दलितों को पुजारी नियुक्त कर देना चाहिए.

बता दें कि पिछले हफ्ते राजस्थान के अलवर में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने यह बयान दिया था. जिसके बाद देश भर में भगवान की जाति को लेकर बहस छिड़ गई थी.

नवंबर की शुरुआत में उन्होंने छत्तीसगढ़ में चुनाव प्रचार करते हुए कहा था कि हनुमान सबसे बड़े आदिवासी हैं, वनवासी हैं. जब भगवान राम वनवास पर थे तब उन्होंने स्थानीय आदिवासियों को राक्षसों के आतंक से मुक्ति दिलाई थी. जिस तरह राम ने यह काम त्रेतायुग में किया था, उसी तरह बीजेपी राज्य में रामराज लाने की कोशिश कर रही है.

सीएम योगी ने यह भी कहा था कि हनुमान ने पूरब से लेकर पश्चिम तक और उत्तर से लेकर दक्षिण तक सबको जोड़ने का काम किया. उन्होंने चौपाइयों के जरिए वोटरों को अपने पक्ष में वोट करने के लिए भी कहा.

Back to top button