महामहिम बनने की जंग- मीरा कुमार ट्विटर पर आईं, रामनाथ कोविंद नहीं है सोशल मीडिया में

मीरा कुमार राष्ट्रपति चुनाव के लिए आगामी बुधवार को अपना नामांकन दाखिल करेंगी. इससे पहले राष्ट्रपति पद के लिए विपक्ष की उम्मीदवार नामित किये जाने के कुछ दिनों बाद मीरा कुमार सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर आग गई हैं. उन्होंने ट्विटर पर दो ट्वीट किये और शाम तक उनके फालोवर की संख्या करीब 2000 हो गई. हालांकि मीरा कुमार केवल भारतीय कांग्रेस के पेज को फॉलो करती हैं. उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया, ‘ईद मुबारक, सभी को खुशी, शांति और समृद्धि की कामना.’
मीरा ने एक अन्य ट्वीट में लोगों से अपील की कि वे राष्ट्रपति चुनाव पर अद्यतन जानकारी के लिए उनके फेसबुक अकाउंट को फालो करें. करीब 31.3 करोड़ सक्रिय ट्विटर इस्तेमालकर्ता हैं जिनमें से 82 प्रतिशत अपने मोबाइल फोन से लॉग इन करते हैं. पूरे विश्व में कई राजनेता ट्विटर पर सक्रिय हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत में सबसे अधिक फॉलो किये जाने वाले नेता हैं जिनके फॉलोवरों की संख्या 3.1 करोड़ है.

सत्ताधारी एनडीए के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के खिलाफ 75 वर्षीय मीरा कुमार 17 गैर राजग दलों की संयुक्त विपक्षी उम्मीदवार हैं. वह 28 जून को अपना नामांकन दाखिल करेंगी जो कि राष्ट्रपति चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने का आखिरी दिन होगा. नामांकन के समय उनके साथ कांग्रेस और विपक्ष के शीर्ष नेताओं के होने की उम्मीद है. 29 जून को नामांकन पत्रों की जांच होने के बाद मीरा कुमार अपना प्रचार अभियान शुरू कर देंगी. उनके नजदीकी सूत्रों ने कहा कि उम्मीद है कि वह अपना प्रचार अभियान उत्तर प्रदेश से शुरू करेंगी.

ट्विटर पर मीरा कुमार से पीछे हैं कोविंद

एनडीए की ओर से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बनाए गए रामनाथ कोविंद का ट्विटर पर कोई भी ऑफिसियल पेज नहीं है. अगर आप रामनाथ कोविंद को ट्विटर पर ढूंढेंगे तो मुख्य रूप से @Ramnathkovind, @iRamnathKovind, @iamRamKovind तीन अकाउंट दिखते हैं. हालांकि इनमें से किसी पर भी वेरीफाई का निशान नहीं है. रामनाथ कोविंद फेसबुक पर भी नहीं हैं. वहीं मीरा कुमार ने ट्विटर के साथ ही फेसबुक पेज भी बनाया है. यह दिलचस्प बात यह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोशल नेटवर्किंग साइट पर दुनिया भर में लोकप्रिय हैं, वे खुद भी कई बार सरकार में मंत्रियों और बीजेपी नेताओं से सोशल मीडिया पर सक्रिय रहने की नसीहत दे चुके हैं. इस बार बीजेपी की अगुवाई वाली एनडीए ने जिस रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया है, वे सोशल मीडिया पर काफी पीछे हैं.

Back to top button