छत्तीसगढ़

पीएनबी घोटाले के खिलाफ युकां करेगा विरोध-प्रदर्शन

रायपुर : छत्तीसगढ़ प्रदेश युवा कांग्रेस पीएनबी घोटाले के खिलाफ 21, 22 और 23 फरवरी को प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों में विरोध प्रदर्शन करेगा। भारतीय युवा कांग्रेस के अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा बरार ने इसके निर्देश दिए हैं।

प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष और विधायक उमेश पटेल ने बताया कि, इस प्रदर्शन के माध्यम से केंद्र सरकार की नाकामियों को उजागर किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पीएनबी ने नीरव मोदी के साथ गारंटीपत्र जारी करने का समझौता मोदी सरकार के कार्यकाल में 2017 किया, और भाजपा अपनी गलती छिपाने के लिए कांग्रेस पर आरोप लगा रही है। केंद्र की मोदी सरकार की नीतियों का ही नतीजा है कि, अब तक बैंक्रप्ट विजय माल्या फरार है और अब यह नीरव मोदी भी देश छोड़कर जा चुका है। यह सरकार जनता के पास 2 लाख से ज्यादा हो तो हिसाब मांग लेती है, लेकिन हजारों करोड़ का घोटाला करने वाले देश छोड़कर चले जाते हैं और ये सरकार सोती रहती है। जहां एक ओर मोदी अपनी पीठ थपथापते हुए घूम रहे है की मुद्रा लोन और स्टार्टप इण्डिया जैसी स्कीम से देश के बेरोज़गारो को फ़ायदा पहुंच रहा है।

उन्होंने कहा कि, सत्यता यह की सरकारी बैंको में मुद्रा लोन नहि दिया जा रहा है वही सरकारी बैंक निरव मोदी जैसे लोगों को बग़ैर कोई ठोस दस्तावेज़ के बिना भी करोड़ों रुपयों का लोन दिया जा रहा है। सरकार इन लोगों की पिछले दरवाज़े से मदद कर रही है देश का युवा बेरोज़गार हो रहा है। नीरव जैसे लोग देश को अरबों खरबो का चुना लगाकर फ़रार हो रहे है अब देश की जनता समझ चुकी है जनता जुमलाबाज़ प्रधानमंत्री और उनकी सरकार को आने वाले चुनाव में सबक सिखाने को तैयार है।

युवा कांग्रेस के महासचिव/प्रदेश कार्यालय प्रभारी अशरफ हुसैन ने बताया कि इस विरोध प्रदर्शन में प्रदेशभर के युंकाई अपने अपने जिला मुख्यालयों में पी॰एन॰बी॰ सरकारी बैंकों सामने प्रदर्शन करेंगे और केंद्र सरकार की नाकामी को जनता तक पहुंचाएंगे। युवा कांग्रेस सभी प्रदेश पदाधिकारी अपने प्रभार क्षेत्र में राजधानी रायपुर में 23 फ़रवरी को छत्तीसगढ़ प्रदेश युवा कांग्रेस के अध्यक्ष उमेश पटेल मोर्चा संभालेंगे।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.