पुलिस बने यमराज, सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए चलाया जा रहा जागरूकता अभियान

सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए शार्ट फिल्म बनाई जा...

रायपुर: रायपुर में पुलिस द्वारा लोगों को जागरूक करने के लिए तरह तरह के जागरूकता अभियान शुरू करते रहते हैं. इसी तरह राजधानी पुलिस ने एक अनोखे पहल की शुरुआत की है. लोगों को यातायात सुरक्षा का संदेश देने के लिए ट्रैफिक डीएसपी सतीश ठाकुर स्वयं यमराज बन गए और पुरानी बस्ती सीएसपी केके पटेल चालक की भूमिका में बिना हेलमेट पहने सड़क पर नजर आए. दरअसल लगातार बढ़ते सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए शार्ट फिल्म बना रही है, जिसकी शूटिंग रायपुर के भगत सिंह चौक में की गई.

यमराज बने ट्रैफिक डीएसपी सतीश ठाकुर का कहना है कि लोगों को जागरूक करने के लिए आज एक शार्ट फ़िल्म बनाई गई है. जिसमें एक व्यक्ति रॉंग साइड से आता है और उसके सामने यमराज प्रकट होता है. और यमराज बताता है कि रॉंग साइड चलाने का क्या नुकसान है और उसको समझाइस देता है कि रॉंग साइड वाहन न चलाएं.

इस शार्ट फ़िल्म का मुख्य उद्देश्य लोगों को यातायात के लिए जागरूक करना और रॉंग साइड से होने वाली दुर्घटनाओं के प्रति जागरूक करना हमारा मकसद है. यातायात पुलिस द्वारा लगातार लोगों को जागरूक करने के लिए एक अच्छी पहल है. एसएसपी आरिफ शेख के मार्गदर्शन में यह फ़िल्म बनाई जा रही है. उम्मीद है इस प्रकार की फ़िल्म से लोग जागरूक होकर यातायात नियमो का पालन करेंगे.

वाहन चालक की भूमिका निभा रहे पुरानी बस्ती सीएसपी कृष्ण कुमार पटेल ने कहा कि राजधानी में आए दिन जो दुर्घटना हो रही है उसे रोकने के लिए एक शार्ट मूवी तैयार कर रहे है. जिसमे रॉंग साइड में चलाने वाले, रेड लाइट जम्प करने वाले और यातायात नियमों का पालन नहीं करने वालों को मूवी बनाकर जागरूक करना चाह रहे है.

इसी को लेकर एसएसपी के मार्गदर्शन में एक शार्ट मूवी बन रही है. हमारा उद्देश्य है कि लोगों को ज्यादा से ज्यादा जागरूक कर सके और दुर्घटनाओं को रोका जा सके. कोई व्यक्ति अगर रॉंग साइड के चलता है तो उसको यमराज यहां से उठा ले जाने की बात कहता है. तब उस व्यक्ति को अहसास होता है कि दुर्घटना से जान जा सकती है. इस बात को अगर लोगों तक मूवी के जरिए पहुचाएं तो हो सकता है वो जागरूक हो जाए.

Back to top button