जिंदल में योग दिवस पर वृहत आयोजन

रायपुर.लगातार तृतीय वर्ष इसतरह के वृहत आयोजन के क्रम में इस वर्ष भी अपने कर्मचारियों में योग द्वारा ऊर्जा का संचार करने का कार्य किया। इस कड़ी में महत्वपूर्ण रहा कर्मचारियों का स्व-स्फूर्त भाव। योग प्रशिक्षक प्रेम कुमार सिंग ने विभिन्न 21 योगों के महत्व को अलग अलग विस्तारित समझाया, जो कि जिंदल में नियमित योग प्रशिक्षक के रूप में 6 वर्षों से कार्यरत हैं ।

इस वर्ष आयोजन के पहले ही जिंदल के अधिकारियों तथा कर्मचारियों में इस योग दिवस के आयोजन के लिए इंतजार देखा गया। यही इस आयोजन का प्रमुख उद्देश्य है। योग करने की प्रेरणा देना, अलख जागृत करना ही इस वार्षिक आयोजन का मूल आधार है।

कार्मिक प्रमुख सूर्योदय दुबे इस आयोजन के मुख्य उद्देश्य की पूर्ति होते हुए देख स्वयं को इसका इज़हार करने से रोक नही सके। प्लान्ट मेन्टेनेन्स प्रमुख कौशल शर्मा ने शब्दशः इस पहल के उद्देश्य को अपने विचारों में उधृत किया व कहा योग एक सनातन क्रिया है।

इस कार्य के लिए सभी सार्थक कदम कर्मचारियों के हित मे लेते रहने की शपथ प्रबंधक अरुण गुप्ता जी ने ली। योग उत्सव में भाग ले रहे रजत साहा वित्तीय प्रमुख, तथा सुनील पाण्डे जी सुरक्षा प्रमुख के विचार एक ही लय में थे, कि इस योग की महत्ता तो अमूल्य है ही बल्कि प्रतिवर्ष इसका आयोजन मानसिक प्रेरणा को निरंतरता भी दे रहा है। कॉरपोरेट प्रमुख आनन्द मोहन शुक्ला की राय में नवीन जी की प्रमुख विचारधारा का सार भी प्रत्येक कर्मचारी के पूर्णतः फिट होने में निहित होना है, जिसका प्रमुख आधार भी योग ही है। उन्होने आगे कहा योग हमे समत्व की ओर ले जाता है, धैर्य से रहना सिखाता है। यम नियम से ले कर समाधि तक सिखाता है योग ।

Back to top button